देशभर में 3 घंटे लेकिन बिहार में बस 1 घंटा रहेगा चक्का जाम, इंटर परीक्षार्थियों के लिए महागठबंधन ने लिया फैसला

Desk: किसानों की मांग को पूरी करवाने के लिए अखिल भारतीय किसान संगठन की ओर से 6 फरवरी को देश भर में 3 घंटे तक चक्का जाम का ऐलान किया गया है। बिहार में इसको राष्ट्रीय जनता दल, कांग्रेस और वाम दल समर्थन कर रहा है। लेकिन इंटरमीडिएट एग्जाम को देखते हुए महागठबंधन के दलों ने बिहार में सिर्फ 1 घंटा तक चक्का जाम करने का फैसला लिया है, जिससे परीक्षार्थियों और अभिभावकों को कोई दिक्कत न हो। बिहार में दोपहर 2 बजे से 3 बजे तक चक्का जाम करने का निर्णय लिया गया है। हालांकि चक्का जाम के दौरान इमरजेंसी सेवा को बाधित नहीं किया जाएगा।

किसान संगठनों के साथ है महागठबंधन
राजद के किसान प्रकोष्ठ की ओर से प्रदेश अध्यक्ष सुबोध कुमार यादव ने कहा है कि चक्का जाम के दौरान इमरजेंसी सेवा को बाधित नहीं किया जाएगा। साथ ही इंटमीडिएट परीक्षा को देखते हुए राजद दोपहर 2 बजे से 3 बजे के बीच आधे घंटे के लिए चक्का जाम करेगा, जिससे परीक्षार्थियों और उनके अभिभावकों को किसी तरह की समस्या न हो। वहीं, कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौर ने कहा है कि कांग्रेस भी किसान संगठनों की मांग के साथ है, इसलिए चक्का जाम को अपना समर्थन देगा। इंटर की परीक्षा को देखते हुए परीक्षार्थियों का ख्याल रखा जाएगा।

23 फरवरी को किसान दिवस
भाकपा माले ने भी 2 बजे से 3 बजे तक एक घंटे के चक्का जाम की बात कही है। इंटर की परीक्षा से जुड़े परीक्षार्थी और अभिभावकों को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। उधर 23 फरवरी को सहजानंद सरस्वती के जन्मदिवस को माले किसान दिवस के तौर पर मनाएगा। इससे पहले किसानों के समर्थन में पहले ही मानव श्रृंखला, धरना, भारत बंद और टैक्टर जुलूस का आयोजन किसान संगठन के ऐलान पर महागठबंधन की ओर से किया जा चुका है।

आने वाले दिनों भी होगा प्रदर्शन

26 फरवरी को रसोईयों का प्रदर्शन होगा
1 मार्च को AISA- RYA का विधान सभा मार्च होगा
16-17 मार्च को आशाओं का संयुक्त महाधरना होगा
3 मार्च को खेग्रामस-मनरेगा मजदूर सभा का प्रदर्शन होगा
5 मार्च को स्वयं सहायता समूह की महिलाओं का प्रदर्शन होगा

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *