बिल्‍डर की दरियादिली, कोरोना संकट की मुश्किल घड़ी में 42 परिवारों को फ्री में दिये फ्लैट

बिल्‍डर की दरियादिली, कोरोना संकट की मुश्किल घड़ी में 42 परिवारों को फ्री में दिये फ्लैट
कोरोना संकट के इस कठिन समय में देश के विभिन्‍न राज्‍यों से रोजगार के लिए सूरत (Surat) आये लोगों को वित्‍तीय संकट से गुजरना पड़ रहा है। ऐसे में वे अपने गांव लौटना चाहते हैं। ऐसे परेशान लोगों की मदद के लिए सूरत के एक बिल्‍डर ने मदद का हाथ आगे बढ़ाया है। बिल्‍डर प्रकाश भलानी (Builder Prakash Bhalani) ने अपने फ्लैट्स को 42 परिवारों के लिये खोल दिया है जो किराया देने में असमर्थ हैं। बिल्‍डर का कहना है कि इसके बदले उनसे किराया नहीं लिया जाएगा बस रखरखाव शुल्‍क के लिए मात्र 1500 रुपये देने होंगे। ये लोग जब तक चाहें यहां रह सकते हैं।

बिल्‍डर का सूरत में ओलपाड के उमरा में रुद्राक्ष लेक पैलेस नाम का एक प्रोजेक्ट बनकर तैयार है। अभी इन इन्‍हें खरीदने के लिए कोई खरीदार नहीं आ रहा है। ऐसे में बिल्डर ने कोरोना संकट से परेशान लोगों को रहने के लिए फ्री घर दिया है।

बिल्‍डर प्रकाश भालानी ने बताया कि रुद्राक्ष लेक पैलेस सोसायटी में 92 फ्लैट में से 42 फ्लैटों में लोगों ने रहना शुरु कर दिया है। ये वे लोग हैं जो रोजगार की उम्‍मीद के साथ सूरत शिफ्ट हुए थे लेकिन पहले लॉकडाउन और फिर अनलॉक में कंपनियों ने इनकी सैलरी काट दी तो कुछ को नौकरी से ही निकाल दिया है। जिसकी वजह से इन लोगों के सामने वित्‍तीय संकट खड़ा हो गया है। बिल्‍डर भालानी ने बताया कि जब हमने सोशल मीडिया पर फ्री फ्लैट्स देने की घोषणा की तो बहुत से जरूरतमंद लोग हमारे पास आये, मैं हर परिवार से बस प्रतिमाह 1500 रुपये मेनटेनेंस ले रहा हूं।

बिल्डिंग में रहने आईं आशा कुमावत ने बताया जब तक हमारे हालात सामान्य नहीं होते तब तक रुद्राक्ष पैलेस में रहने के लिए हमसे कोई किराया नहीं लिया जाएगा। इससे हमें काफी मदद मिली है। भालानी ने बताया कि 92 फ्लैट्स में लगभग आधे में लोगों ने रहना शुरु कर दिया है। बिल्डर के अनुसार, प्रत्‍येक परिवार से केवल 1,500 रुपये महीने मेनटेनेंस के तौर पर लिए जाएंगे। अगर सभी फ्लेट में लोग रहने आ जाते हैं तो महीने का मेनटेनेंस 500 रुपये घटा कर मात्र 1,000 रुपये कर दिया जाएगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *