गांधी सेतु के बंगल में बनेगा एक और फोर लेन वाला पुल, जमीन का हुआ अधिग्रहण

राजधानी पटना-हाजीपुर के बीच गंगा नदी पर महात्मा गांधी सेतु के समानांतर बनने वाले दूसरे पुल का निर्माण कार्य जल्द शुरू होगा। इसके लिए भूमि अधिग्रहण का काम पूरा किया जा चुका है। अब तक 40 लोगों ने भुगतान के लिए अपने कागजात को जमा करवाया और विभाग ने उन कागजों को भारत सरकार के भूमि अधिग्रहण पोर्टल पर अपलोड कर दिया है।

केंद्र सरकार के सड़क व परिवहन व हाइवे मंत्रालय के निर्देशानुसार बिहार में पुल निर्माण के लिए गंगा नदी के दोनों स्वामियों की जमीन पड़ रही थी। को जमीन अधिग्रहण के लिए नोटिस ओर जरूरत के अनुसार जमीन की मापी के बाद सरकार के आदेशानुसार _ दी। नोटिस के उपरांत 40 से अधिक मापी कराई गई थी। नए पुल निर्माण… भू-अर्जन विभाग ने पुल के किसानों ने अपनी जमीन देने की के लिए वैशाली जिले के हाजीपुर की समीपवर्ती क्षेत्र तरसिया और शहपुर स्वीकृति भी दे दी है। इन्होंने कागजात ओर पुल निर्माण क्षेत्र में स्थानीय भू- . गांवके 100 से अधिक भू-स्वामियों. भी जमा करा दिये हैं।

पुल निर्माण के लिए जितनी जमीन की जरूरत थी उतनी उपलब्ध हो गई है। जिन भू- स्वामियों की अधिग्रहित की गई है, उनको भुगतान करने की कार्रवाई की जा रही है। विभाग के राज्य स्तर के एक वरीय अधिकारी ने नाम नहीं छापने के शर्त पर बताया कि पुल निर्माण के लिए जमीन और अन्य आवश्यक जांच पूरी कर ली गई है। इसके बाद जल्द ही निर्माण के लिए टेंडर निकालने की प्रक्रिया शुरू होगी। इसके बाद निर्माण कार्य भी जल्द शुरू होगा।

dailybihar।com, dailybiharlive, dailybihar.com, national news, india news, news in hindi, latest news in hindi, बिहार समाचार, bihar news, bihar news in hindi, bihar news hindi NEWS, PIPA POOL, PATNA TO HAJIPUR

महात्मा गांधी सेतु के बगल में समानांतर एक नए पुल के निर्माण के लिए तेरसिया और शहपुर गांव के 00 से अधिक भू-स्वामियों की जमीन अधिग्रहण के लिए नोटिस जारी किया गया था। 40 से अधिक किसानों ने भुगतान के लिए कागज भी विभाग में जमा कराए हैं | – वकील प्रसाद सिंह, जिला भू-अर्जन पदाधिकारी, वैशाली

येहोंगे फायदे : उत्तर बिहार और दक्षिण बिहार को जोड़ने वाले महात्मा गांधी सेतु के खस्ताहाल हो जाने के बाद काफी दिनों से दा निर्माण की मांग की जा रही थी। लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इसको देखते हुए इस पुल को बनाने की योजना बनी। पुल बन जाएगा तो उत्तर बिहार के लोगों को बहुत बड़ी राहत मिलेगी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *