ABVP के छोटे से कार्यकर्ता से महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री तक….देवेंद्र फडणवीस

New Delhi : देवेंद्र फडणवीस दोबारा महाराष्ट्र के CM बन गए हैं। शनिवार को उन्होंने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। उनके साथ NCP नेता अजीत पवार ने भी उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। महाराष्ट्र में बड़े उलटफेर के बाद NCP-BJP ने मिलकर सरकार बनाई है।

देवेंद्र फडणवीस पहली बार 44 वर्ष की उम्र में शरद पवार के बाद महाराष्ट्र के सबसे छोटे मुख्यमंत्री बने। उन्होंने 31 अक्टूबर 2014 को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में सीएम पद की शपथ ली। देवेंद्र फडणवीस ने आरएसएस से अपना करियर शुरू किया था और वह 22 साल की उम्र में नागपुर नगर निगम के मेयर बने थे।

इनके एक बेटी है जिसका नाम दिविजा फडणवीस है। देवेंद्र फडणवीस के पास कानून की डिग्री है। फडणवीस ने नागपुर में रस्वती विद्यालय, शंकर नगर चौक से अपनी स्कूली शिक्षा पूरी की है।

उन्होंने पांच साल की एकीकृत कानून की डिग्री के लिए नागपुर के सरकारी लॉ कॉलेज में दाखिला लिया और 1992 में स्नातक की उपाधि प्राप्त की और बिजनेस मैनेजमेंट में स्नातकोत्तर डिग्री और डीएसई, बर्लिन से परियोजना प्रबंधन में डिप्लोमा लिया हुआ है।

देवेंद्र फडणवीस पढ़ाई के दौरान ही एबीवीपी के सक्रिय सदस्य थे और युवाओं को समाज के पुनर्निर्माण की दिशा में प्रसारित करते थे। एबीवीपी के कार्यकर्ता के रूप में उन्होने जमीनी स्तर पर राजनेताओं के लिए बहुत कार्य किया।

वह दीवारों को पेंट करते थे और राजनेताओं के प्रचारक पोस्टर्स चिपकाते थे। देवेंद्र फडणवीस ने आरएसएस से अपना करियर शुरू किया था। वह 22 साल की उम्र में नागपुर नगर निगम के मेयर बने थे। देवेंद्र फडणवीस वर्तमान में महाराष्ट्र राज्य के 19 वें मुख्यमंत्री हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *