होली पर घर जाने वाले लोगों की सुविधा के लिए 1000 बसों के फेरे बढ़ाए जाएंगे

इस साल 25 मार्च को होली है और दिल्ली मुंबई में रह रहे बिहार के प्रवासी मजदूर अपने-अपने घर आने की तैयारी शुरू कर चुके हैं. रेलवे द्वारा लगभग बिहार के सभी रेलवे स्टेशनों के लिए 50 से अधिक होली स्पेशल ट्रेन चलाया जा रहा है बावजूद इसके भीड़ कम होने का नाम नहीं ले रहा है. आसान भाषा में कहा जाए तो सभी रेलगाड़ियों में टिकट फुल हो चुका है और लोगों को आसानी से कंफर्म टिकट नहीं मिल पा रहा है. विमान का किराया 20 से 25000 तक पहुंच चुका है. लोगों को होली में घर आने में अधिक परेशानियों का सामना न करना पड़े इसको लेकर बिहार सरकार ने 1000 से अधिक बसों का फेरा बढ़ाने का फैसला किया है.

बताया जाता है कि बिहार के विभिन्न जिलों के लिए दिल्ली वाराणसी कोलकाता रांची आदि जगहों से बस सेवा उपलब्ध करवाया जा रहा है. बस में आसानी से फिलहाल टिकट उपलब्ध हो जा रहा है. बिहार मोटर ट्रांसपोर्ट फेडरेशन के अध्यक्ष उदय शंकर प्रसाद सिंह और जिला अध्यक्ष चंदन सिंह ने बताया कि बैरिया स्थित पाटलिपुत्र बस टर्मिनल से विभिन्न राज्यों में आने जाने वाली 300 से अधिक बसों के फेरे बढ़ाए जाएंगे इसके अलावा राज्य के अन्य जिलों के लिए भी बस की सुविधा बढ़ाई जा रही है. 1000 बेसन का पेड़ा बढ़ाया जा रहा है पटना से गया जहानाबाद आरा नवादा सारण मुजफ्फरपुर सहित 150 किलोमीटर के अंदर आने वाले जिलों में दो फेरे बढ़ाए जाएंगे.

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WHATTSUP,YOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *