भारतीय महिला हॉकी टीम ने ओलंपिक क्वार्टर फाइनल में पहली बार जगह बनाकर रचा इतिहास

टोक्यो ओलिंपिक 2020 में भारतीय हॉकी के लिए 31 जुलाई का दिन ऐतिहासिक साबित हुआ। भारतीय महिला हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक के क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली है। ओलिंपिक के इतिहास में भारतीय टीम पहली बार क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में सफल हुई है। कप्तान रानी रामपाल की टीम ने ग्रुप स्टेज में 2 मैच जीते थे, जबकि 3 में उसे हार मिली थी। इसके बाद भारतीय टीम के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने की उम्मीदें ग्रेट ब्रिटेन और आयरलैंड के बीच होने वाले नतीजे पर टिकी थीं, जहां ब्रिटेन ने जीत दर्ज कर भारत के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने का रास्ता साफ किया।


पूल ए में भारतीय टीम 5 मैचों में 2 जीत और 6 पॉइंट्स के साथ चौथे स्थान पर रही, और क्वालिफाई करने वाली आखिरी टीम रही। उसको क्वार्टर फाइनल में पहुंचने के लिए आयरलैंड की हार या मैच के ड्रॉ होने की जरूरत थ। आयरलैंड के 3 पॉइंट्स थे और ये मैच जीतने पर उसके भी 6 पॉइंट्स हो जाते, लेकिन गोल अंतर के मामले में वह भारत से आगे निकल जाता। हालांकि, ऐसा कुछ हुआ नहीं और इंग्लैंड ने 2-0 से जीत दर्ज कर भारत की क्वार्टर फाइनल तक पहुचने में मदद की। वहीं पहली बार ओलिंपिक में खेल रही आयरिश टीम का सपना टूट गया और बाहर हो गई।

भारतीय महिला हॉकी टीम सिर्फ तीसरी बार ही ओलिंपिक खेलों में हिस्सा ले रही है। टीम ने पहली बार 1980 के मॉस्को ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई किया था। उसके बाद टीम ने 2016 के रियो ओलिंपिक में भी अपनी दावेदारी पेश की थी इन दोनों ही ओलिंपिक में भारतीय टीम एक भी मैच नहीं जीत सकी थी। इस बार भी टीम को लगातार पहले 3 मैचों में हार झेलनी पड़ी थी। फिर उसे ओलिंपिक में अपनी पहली जीत आयरलैंड के खिलाफ मिली, जब टीम ने शुक्रवार को उसे 1-0 से हराया। फिर आज के अहम मुकाबले में भारतीय महिलाओं ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ रोमांचक अंदाज में 4-3 से जीत दर्ज कर दावेदारी मजबूत की थी।
क्वार्टर फाइनल में भारत का मुकाबला 3 बार की ओलिंपिक चैंपियन ऑस्ट्रेलिया से होगा। ऑस्ट्रेलिया ने पूल बी के अपने सभी पांचों मैचों में दमदार जीत दर्ज की। ऑस्ट्रेलियाई टीम ने टूर्नामेंट में अभी तक 13 गोल किए हैं, जबकि सिर्फ एक गोल खाया है। वहीं भारतीय टीम ने 7 गोल किए हैं, जबकि 14 गोल उस पर पड़े हैं। ये मुकाबला 2 अगस्त को भारतीय समयानुसार सुबह 8.30 बजे शुरू होगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.