कभी MLA को जड़ा थप्पड़ तो कभी CM से लिया लोहा, डरकर काम नहीं करने वाली अफसर हैं IPS सोनिया

कभी MLA को जड़ा थप्पड़ तो कभी CM से लिया लोहा, डरकर काम नहीं करने वाली अफसर हैं IPS सोनिया

IPS Sonia Narang: हमारे देश में महिलाएं आज किसी भी मामले में पुरुषों से कम नहीं हैं। फिर चाहे वो घर-परिवार चलाना हो या फिर देश की सेवा करना। आईएएस-आईपीएस बनकर देश की तमाम बेटियां अपना फर्ज बखूबी निभा रही हैं। ऐसी ही एक महिला आईपीएस अफसर हैं जो बिना डरे, बिना किसी बात की परवाह किए अपनी ड्यूटी पूरी मुस्तैदी से कर रही हैं। इनका नाम है सोनिया नारंग।

सोनिया नारंग कर्नाटक कैडर की 2002 बैच की आईपीएस हैं। उनका नाम प्रदेश की सबसे तेज तर्रार आईपीएस अफसरों में शामिल है। साल 2004 में कर्नाटक के गुलबर्गा में उनकी पहली पोस्टिंग मिली। 16 साल साल के करियर में सोनिया नारंग जहां भी तैनाती हुई वहां उनके नाम से अपराधी खौफ खाते।

सोनिया नारंग मूल रूप से पंजाब की रहने वाली हैं। उनका जन्म और परवरिश चंडीगढ़ में हुई। 1999 में उन्होंने पंजाब यूनिवर्सिटी से समाज शास्त्र में गोल्ड मेडल हासिल किया। सोनिया नारंग के पिता भी प्रशासनिक अधिकारी रह चुके हैं। वह अपने पिता की ही तरह बनना चाहती थीं और ऐसा किया भी।

करियर के शुरुआती सालों में ही सोनिया नारंग ने बीजेपी के एक एमएलए को सबके सामने थप्पड़ रसीद दिया था। 2006 की इस घटना ने सोनिया को काफी चर्चित कर दिया था। कर्नाटक के मुख्यमंत्री रहे सिद्धरमैया के खिलाफ भी सोनिया नारंग मोर्चा खोल चुकी हैं।

सोनिया नारंग के जीवन पर कन्नड़ भाषा में अहिल्या नाम से फिल्म भी बन चुकी है। सोनिया नारंग के पति गणेश भी अफसर हैं। वह बिहार कैडर के आईएएस हैं। सोनिया और गणेश का एक बेटा है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.