बेटे का कामयाब बनाने के लिए मां ने रात दिन की मेहनत, बेटे ने भी IPS बनकर पूरा किया मां का सपना

UPSC एग्जाम पास करके IAS-IPS बनना हर किसी का सपना होता और इस सपने को पूरा किया सुशांत सिंह ने। गाजीपुर के खानपुर गांव के रहने वाले सुशांत सिंह ने यूपीएससी एग्जाम में 189 वां रैंक हासिल करके परिवार का मान बढ़ाया है। सुशांत सिंह की कामयाबी की कहानी फिल्मी तो नहीं है लेकिन हर उस मां के लिए एक प्रेरणा जरूर है, जो अपने बेटे को बड़े मुकाम पर देखना चाहती है।

सुशांत की मां का सपना था कि वो अपने पिता से ऊपर जाए। वो अपने बेटे को IPS बनाना चाहती थी। उनकी जिद देखते ही देखते कब जुनून में बदल गई, पता ही नहीं चला। घर में ऐशो आराम की जिंदगी छोड़ अनुराधा ने अपनी जिंदगी का एक बड़ा वक्त सुशांत की पढ़ाई में लगा दिया। IFS होने के चलते उनके पति अशोक सिंह का ट्रांसफर होता रहता था, लेकिन अनुराधा हर वक्त सुशांत सिंह के साथ रहती थीं।

पढ़ाई के सिलसिले में सुशांत चाहे दिल्ली रहे हों या फिर देहरादून, बेटे का ख्याल रखने के लिए अनुराधा हर वक्त उनके साथ रहती थीं। अनुराधा ने ना सिर्फ बेटे को अच्छी परवरिश दी बल्कि प्रेरणा भी देती रही। अनुराधा अपने बेटे की पढ़ाई का पूरा ख्याल रखती थीं। कब सोना है, कब उठना है। कैसे पढ़ाई करनी है। एक-एक गतिविधि पर उनकी नजर रहती थी। सुशांत पढ़ाई के लिए देर रात तक जागते थे तो उनकी मां भी जागती थी। यही कारण है कि सुशांत ने इस कामयाबी को अपनी मां को समर्पित किया है। वो कहते हैं मेरे लिए मेरी मां, एक मेंटर की तरह हैं। आज मैं जो कुछ भी हूं, उन्हीं की बदौलत। उनकी जिद और जुनून के आगे मेरी कामयाबी का कोई मोल नहीं है ।

सुशांत की इस कामयाबी पर उनकी मां फूले नहीं समा रही हैं। बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि सुशांत ने मेरा सपना साकार कर दिया। सुशांत बचपन से ही पढ़ाई में तेज थे। उनका बचपन वाराणसी में बीता। शुरूआती पढ़ाई के बाद वो दिल्ली आर्मी स्कूल, देहरादून और सिलीगुड़ी चले गए जहां उन्होंने आगे की शिक्षा हासिल की। इसके बाद दिल्ली यूनिवर्सिटी से अंग्रेजी आर्नस से ग्रेजुएशन किया। पिछले साल उनका सलेक्शन इन्फोर्समेंट ऑफिसर के पद पर हुआ था। लेकिन सुशांत को असली मुकाम मिलना बाकी था। उन्होंने फिर से यूपीएसपी का एग्जाम दिया और इस बार कामयाबी हासिल की। इस बार उन्हें 189 वां रैंक मिला है।  अब वो IPS बन गए हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *