जल नल योजना पर CM नीतीश का बड़ा फैसला, ग्रामीण इलाकों में भी दिन में 3 बार मिलेगा पानी

ग्रामीण इलाकों में भी दिन में तीन बार मिलेगा नल का जल : जिले के ग्रामीण इलाकों में नगर निगम की तरह तय समय के अनुसार सुबह, शाम और रात में नल का जल मिलेगा। पदाधिकारियों के मुताबिक सुबह में 2 घंटे, दोपहर मे 2 घंटे अौर शाम में 2 घंटे पीने के लिए शुद्ध पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चित करानी है। इसके लिए पंचायतों में बोरिंग चलाने के लिए ऑपरेटर रखा जा रहा है। पदाधिकारियों के मुताबिक अपने जमीन पर बोरिंग लगाने की अनुमति देने वाले लोगों को वरीयता दी जाएगी। शेष अन्य जगहों के लिए पंचायत स्तर पर ऑपरेटर की नियुक्ति होगी। सभी को एक निश्चित मानदेय दिया जाएगा। ताकि, व्यवस्था को सुनिश्चित कराया जा सके।

दाे माह से बाधित है जलापूर्ति : पालीगंज के चिकासी पंचायत के वार्ड नंबर एक में दो माह से जलापूर्ति बाधित है। जांच में पाया गया कि एचडीपीर्इ पार्इप कर्इ जगह पर कटा है। मोटर का स्टार्टर जला हुआ है। नौबतपुर प्रखंड के चकचेचौल पंचायत के वार्ड नंबर 7, 9, 10 में आरसी टावर का कार्य पूर्ण नहीं हुआ है। टंकी नहीं लगाया है।

अधूरे कार्य को पूरा करने का टास्क : जिले के ग्रामीण इलाकों में नल-जल और कच्ची नली-गली के निर्माण में गड़बड़ी सामने आने के बाद पंचायत स्तर पर अधूरा कार्य को पूरा करने का टास्क दिया गया है। इसमें फेल होने वाले के खिलाफ कार्रवाई होगी। पंडारक, अथमलगोला, मसौढ़ी घोसवरी, दानापुर और पालीगंज के एक दर्जन से अधिक पंचायत में गड़बड़ी का मामला सामने आया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *