राजधानी एक्स में जंघिया-गंजी पहनकर घूमने वाले जदयू विधायक को जाना होगा जेल, दाे गैरजमानतीय धारा

PATNA : तेजस राजधानी एक्सप्रेस में जदयू विधायक गाेपाल मंडल के गंजी-अंडरवियर में घूमने अाैर एक यात्री से बदसलूकी का केस दर्ज हाेने के बाद अारा रेल पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। अारा जीअारपी ने केस दर्ज कराने वाले प्रह्लाद पासवान से संपर्क कर घटना की जानकारी ली है। जहानाबाद के प्रह्लाद अभी दिल्ली में इलाज करा रहे हैं।

थानेदार शाहनवाज खान ने बताया कि उन्हें अारा जीअारपी अाकर बयान दर्ज कराने काे कहा गया है। उस काेच में विधायक के अासपास की बर्थ पर सफर करने वाले यात्रियाें से भी जानकारी ली जाएगी। सूत्राें के अनुसार, ट्रेन के दिल्ली से लाैटने के बाद ए1 काेच से 2 सितंबर की रात का 16 जीबी का फुटेज निकाला गया है। पुलिस इस फुटेज से भी विधायक पर लगे अाराेपाें की जांच करेगी। प्रह्लाद ने अाराेप लगाया है कि विधायक अाैर उनके लाेग नशे में थे। उन्हाेंने चेन अाैर अंगूठी छीन ली। जातिसूचक शब्द कहकर अपमानित किया। गंदा पानी पिलाया।

चाेरी करने का भी लगाया अाराेप : विधायक अाैर उनके लाेगाें पर अाईपीसी की धारा 504, 290, 379 अाैर 34 के तहत कांड संख्या 76/21 दर्ज किया गया है। इसके अलावा 3 (अार)(एस) एससी-एसटी (अत्याचार निवारण) अधिनियम के तहत केस हुअा है। पटना हाईकाेर्ट के वकील प्रभात भारद्वाज ने बताया कि धारा 504 जमानतीय पर दाे साल की सजा का प्रावधान है। धरा 290 भी जमानतीय धारा है अाैर इसमें 200 रुपए का अार्थिक दंड है। धारा 379 (चाेरी) गैर जमानतीय है। इसमें 3 साल की सजा का प्रावधान है। 3 (अार)(एस) एससी-एसटी (अत्याचार निवारण) अधिनियम गैर जमानतीय धारा है। इसमें 6 माह से 7 साल तक की सजा का प्रावधान है। जब कई लाेग किसी सामान्य इरादे से काेई अपराध करते हैं तब अाईपीसी की धारा 34 लगाई जाती है। इसमें सजा का काेई प्रावधान नहीं है।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WHATTSUP पर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *