6 महीने में नीतीश हटेंगे, तेजस्वी बनेंगे CM, जदयू MLA ने कहा- नेता बनने के लिए दबंग होना ज़रूरी

बिहार चुनाव को खत्म हुए अभी दो महीने ही गुजरे हैं। हालांकि, इन दो महीनों में ही राज्य में राजनीति के कई रंग देखने को मिल चुके हैं। राजद के एनडीए सरकार गिराने के दावों से लेकर जदयू विधायकों की बगावत की खबरों तक, राज्य में राजनीतिक उठापटक का दौर अब भी जारी है। इस बीच अपने विवादित बयानों के लिए लोकप्रिय भागलपुर की गोपालपुर विधानसभा सीट से जदयू विधाक गोपाल मंडल ने एक बार फिर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि नीतीश कुमार छह महीनों में बिहार सीएम पद से हट जाएंगे और उनकी जगह तेजस्वी यादव आ जाएंगे।

कब आया गोपाल मंडल का यह बयान: एक दिन पहले ही गोपाल मंडल की एक ऑडियो क्लिप वायरल हुई थी। इसमें वे भाजपा के रोहित पांडेय पर कटाक्ष करते सुने गए थे। इसके साथ ही वे कहते हैं कि भूमिहार और ब्राह्मण को सैंत देंगे। इस क्लिप के वायरल होने के बाद गोपाल मंडल की काफी फजीहत हुई थी। इसी बयान पर सफाई देने के लिए वे प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए आगे आए।

जदयू विधायक ने कहा- एमएलए-एमपी बनने के लिए दबंग होना ज़रूरी, जिसे मैंने बोला लोगों ने उसे ही वोट दिया
इसी प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान गोपाल मंडल की जुबान फिसल गई। उन्होंने पहले तो नीतीश कुमार को दबंग मुख्यमंत्री करार दिया। हालांकि, बाद में उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार की पारी 6 महीनों में ही खत्म हो जाएगी। इतना ही नहीं मंडल ने यहां तक दावा कर दिया कि इसके बाद राजद के तेजस्वी यादव मुख्यमंत्री बनेंगे।

एक विधायक ने बात संभाली, तो मंडल ने बिगाड़ी: गौरतलब है कि प्रेस कॉन्फ्रेंस की शुरुआत में नवगछिया जदयू जिलाध्यक्ष वीरेंद्र सिंह कुशवाहा ने भागलपुर जिले में बाहर आई ऑडियो क्लिप की वजह से भाजपा और जदयू में आई दरार के लिए माफी मांगी। उन्होंने कहा, प्रदेश का ताना-बाना नहीं टूटने देंगे। हमसब एक हैं। हालांकि, जैसे ही मंडल ने कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया, तो वे और विवादित बयान दे गए।

जब मंडल से पूछा गया कि ऑडियो क्लिप में वे किसे सैंतने की बात कर रहे हैं। इस पर उन्होंने कहा-किसे सैंतेंगे? ब्राह्मण और भूमिहार को…नहीं, अपनी जाति के लोगों को। उन सबका राइफल-बंदूक रखा दिए। अपने दबंग होने की बात करते हुए मंडल ने कहा, “हम जदयू में सबसे अधिक 25 हजार वोट से जीते। हमारे क्षेत्र की जैसी भौगोलिक स्थिति है, अगर मुंह में बोली नहीं रहेगा तो जिंदा नहीं छोड़ेगा। जिसके मुंह में बोली नहीं होगा, पैसा नहीं होगा, तो वह क्या चुनाव जीतेगा। हमको मसल्स पावर है। अपने मसल्स पावर से चुनाव जीते हैं।”

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *