किसान आंदोलन के पीछे चीन-पाकिस्तान, मनोज तिवारी ने लिया टुकड़े-टुकड़े गैंग का नाम

मनोज तिवारी ने कहा, टुकड़े गैंग किसान आंदोलन को शाहीन बाग बना देना चाहता है : किसान अपनी मांगें लेकर दिल्ली तक पहुंच गए हैं। आज सरकार उनसे चौथे चरण की बातचीत करने वाली है। नए कृषि कानूनों को लेकर उत्तर प्रदेश, पंजाब और हरियाणा के किसान विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। अब हरियाणा के कृषि मंत्री जेपी दलाल ने कहा दिया है कि इस आंदोलन के पीछे विदेशी ताकतों, चीन औऱ पाकिस्तान का हाथ है। वे चाहते हैं कि देश में अस्थिरता लाई जाए। इसके अलावा बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने कह दिया है कि ‘टुकड़े-टुकड़े गैंग’ के लोग किसान आंदोलन को शाहीन बाग बना देना चाहते हैं।

जेपी दलाल ने कहा, ‘किसान को आगे करके चीन और पाकिस्तान जैसे दुश्मन देश अस्थिरता लाना चाहते हैं। मोदी कोई थोपे हुए नेता नहीं हैं। उनको जनता का अब भी समर्थन मिल रहा है। इस कानून के लगने के बाद भी लोगों ने जबरदस्त समर्थन किया है। क्या वे किसान नहीं हैं? अगर किसान सड़क पर आ जाएं तो इसका फैसला सड़क पर होगा या संसद में।’

उन्होंने कहा, ‘सड़क की राजनीति अच्छी नहीं है। देश तरक्की के रास्ते पर चल रहा है। कुछ ताकतों को विदेशी ताकतों को देश का विकास अच्छा नहीं लगता। उन्हें मोदी का चेहरा पसंद नहीं है। किसानों को मोहरा बनाकर विरोध किया जा रहा है। अपनी-अपनी राजनीतिक रोटियां सेकना बंद करें। मोदी जी किसानों के हित में काम करते हैं। किसान वार्ता करें और दिल्ली के रास्ते बंद कर देना या घेर लेना अच्छी बात नहीं है। यह लाहौर या कराची नहीं है।’

किसान आंदोलन को लेकर बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने कुछ संगठनों को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा, ‘टुकड़े-टुकड़े गैंग’ के लोग राजधानी की सीमाओं को शाहीन बाग बना देना चाहते हैं। बता दें कि सीएए के बाद शाहीन बाग में कई महीने तक प्रदर्शन चला था।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *