बिहार में सरकारी शिक्षकों की खैर नहीं, KK पाठक ने कहा— स्कूल में हर टीचर को अपना फोटो लगाना होगा

सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की लगानी होगी तस्वीर : सरकारी स्कूलों में पढ़ाने वाले शिक्षकों से सभी बच्चे व अभिभावक रूब-रू हो सके और उन्हें चेहरे से पहचान सके, इसके लिए हर स्कूल में शिक्षकों की तस्वीर लगाना अनिवार्य है. बिहार शिक्षा परियोजना परिषद की ओर से जारी आदेश के मुताबिक सभी स्कूलों के प्रधानाध्यापकों को स्कूल में पढ़ने वाले सभी शिक्षकों की तस्वीर और विषय की जानकारी रंगनी फ्लैक्स बोर्ड पर लगानी होगी. जिलों के सभी प्रखंड पदाधिकारियों से शिक्षकों की तस्वीर न लगाने वाले स्कूलों की रिपोर्ट 25 दिसंबर तक मांगी गयी है.

प्राथमिक, माध्यमिक और उच्च माध्यमिक स्कूलों में प्रधानाध्यापक कक्ष के बहर वा फिर स्कूल परिसर में ऐसी जगह शिक्षकों को तस्वीर लगानी है, जहां सभी बच्चे और अभिभावकों की नजर पड़ सके. एक बोर्ड पर अधिकतम 10 शिक्षकों की तस्वीर लगानी होगी. अगर किसी स्कूल में शिक्षकों की संख्या अधिक है, तो वहांपर तय मानक के अनुसार ही शिक्षक बोर्ड लगाना होगा. इसके साथ ही शिक्षकों के स्थानोतरण, पद्दोन्नति सेवानिवृत्ति के बाद इस बोर्ड को अपडेट किया जावेगा.

इस बारे में पटना जिला कार्यक्रम पदाधिकारी श्याम नंदन ने बताया कि इस पहल से रूटीन के अनुसार या फिर शिक्षकों की तैनाती होने के बावजूद स्कूल नहीं आने शिक्षकों कौ पकड़ आसन होगी. इसके साथ हो शिक्षक बीईओ के माध्यम से निरीक्षण के समय एक ही नजर में शिक्षकों का पूरा ब्योरा दिख जायेगा.

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WHATTSUP,YOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *