हद है यार, बिहार में पहले हवा से पुल गिरा अब अरबों रुपये से बन रहे ब्रिज का पाया बह गया, 2 करोड़ का घाटा

बिहार: कोसी नदी के तेज बहाव में बह गया निर्माणाधीन फोरलेन पुल का पाया, 2 करोड़ रुपये से अधिक का नुकसान – भागलपुर के बिहपुर से फूलोत तक बन रहे एनएच-106 के मिसिंग लिंक (30 किलोमीटर) में कोसी नदी पर हरिओ के त्रिमुहान घाट के पास निर्माणाधीन पुल का एक पाया शनिवार को नदी की तेज धार में बह गया.

कोसी नदी पर 6.94 किमी लंबे फोर लेन पुल का निर्माण : कोसी की मुख्य धारा में चार पाये (कुएं) 121, 122,123 और 124 बनाये गये थे. इनमें से 124 बह गया. कोसी नदी पर 6.94 किमी लंबे फोर लेन पुल का निर्माण मुंबई की एफकॉन कंपनी करा रही है. इसका टोल प्लाजा सिक्स लेन का और सड़क टू-लेन की है.

एफकॉन कंपनी के प्रोजेक्ट मेनेजर बीके झा, डीजीएम अरविंद कुमार, सीनियर मैनेजर तकनीक शैलेश तिवारी व एजीएम रंजीत कुमार ने बताया कि जो पाया पानी में बह गया वह 1400 टन वजनी था और उसका व्यास 8.50 मीटर था. इससे 2.27 करोड़ रुपये का नुकसान कंपनी को हुआ है.

बताया गया कि तीन पाये का काम पूरा हो चुका है. 124 नंबर के नीचे कंक्रीट आ जाने से इसका काम पूरा नहीं हो पाया था. एक जून को गोताखोरों से दिखाने पर पता चला कि कुआं के नीचे बंडल में बिजली का पोल था. कोसी नदी के पानी का बहाव तेज हो जाने के कारण शनिवार को पाये के नीचे से मिट्टी खिसक गयी. इससे वह बह गया.

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WhattsupYOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.