ब्वॉयफ्रेंड को पहले ‘प्रोबेशन’ पर रखा, अनोखी है महिला की लव स्टोरी

Desk: UK की एक महिला ने एक रिलेशनशिप पोर्टल पर बताया है कि लॉकडाउन के समय का इस्तेमाल उसने किस तरह अपने ब्वॉयफ्रेंड का टेस्ट लेने में किया. महिला ने बताया कि कई साल पहले वो और जॉर्ज टिंडर पर मिले थे. उस समय महिला की उम्र 16 साल की थी और अब अप्रैल में वो अपने प्यार की छठी सालगिरह मनाएंगे.

महिला ने बताया कि दोनों का रिश्ता पहले से बहुत ज्यादा मजबूत हो चुका है. उसने लोगों से इसका एक खास सीक्रेट शेयर किया है और ये ठीक वैसा ही फंडा है जैसे कि कोई चीज खरीदने से पहले उसे ट्राइ करना.

महिला ने बताया, ‘टीनएज रोमांस में हम दोनों ज्यादातर समय एक-दूसरे से बहुत दूर रहते थे. इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए जॉर्ज स्टैफोर्डशायर चला गया था. 2 साल बाद मैं भी अपने भूगोल की पढ़ाई के लिए मैनचेस्टर चली गई. हम दोनों के लिए ये मुश्किल था लेकिन हम किसी तरह वीकेंड पर एक-दूसरे से मिल लेते थे. जब हम मिलते थे तो क्लब, दोस्तों के साथ बाहर बोलिंग गेम खेलने और खाना खाने जाते थे.’

उसने लिखा, ‘2019 में जॉर्ज को दूसरे शहर में नौकरी मिल गई और उसे अक्सर ट्रैवेल करना पड़ता था. हमारे बीच दूरियां बढ़ रहीं थी लेकिन हमने अपना लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप बरकरार रखने का फैसला किया. मैंने भी एक जगह पार्ट टाइम नौकरी शुरू कर दी थी. मार्च 2020 में कोरोनावायरस की वजह से क्लासेज ऑनलाइन होने लगीं.’

महिला ने लिखा, ‘मैं जॉर्ज से मिलने उसके शहर गई थी और मैनचेस्टर वापस आने के लिए ट्रेन पकड़ने ही वाली थी कि मेरे पास कॉल आया कि कंपनी ने मुझे पार्ट टाइम जॉब से निकाल दिया है. मुझे समझ नहीं आ रहा था कि अब रूम के रेंट, कपड़े खरीदने के पैसे और मेरे महीने के खर्चे मैं कैसे पूरे करूंगी.’

‘मैं अपने शहर वापस आ गई. यहां लॉकडाउन लगना शुरू हो गया था. मेरी परेशानी देखकर जॉर्ज ने मुझे अपने साथ कुछ दिन रहने का ऑफर दिया. ये सुनकर मैं घबरा गई क्योंकि मैं कभी भी उसके साथ एक हफ्ते से ज्यादा नहीं रही थी. हम दोनों ने ज्यादातर समय एक-दूसरे से दूर रह कर ही बिताया है. आखिरकार मैं उसके दो कमरे के छोटे से फ्लैट में रहने आ गई.’

‘जॉर्ज मुझे पैसों से मदद करना चाहता था पर मैं इसके लिए तैयार नहीं थी. मैं उस पर बोझ नहीं बनना चाहती थी और ना ही मैं अपने खर्चे उसे बताना चाहती थी. इसके अलावा मैं ये भी सोचकर परेशान हो गई कि बर्तन धोने, सफाई करने और बाथरूम साफ करने जैसे काम कैसे मैनेज होंगे.’

‘आखिरकार मैंने जॉर्ज के साथ लंबे समय तक ठहरने और इन दिनों को प्रैक्टिस रन की तरह लेने का फैसला किया. मैंने कहा कि मैं अपने फाइनल इयर के एग्जाम तक यहीं रहूंगी और उसके बाद ये निर्णय लूंगी कि क्या मैं हमेशा के लिए जॉर्ज के साथ रह सकती हूं या नहीं.’

महिला ने लिखा, ‘जिंदगी भर के अपने कमिटमेंट को परखने के लिए इससे अच्छा समय कुछ और नहीं था. शुक्र है कि मेरी सारी चिंताएं जल्द दूर हो गईं. हम दोनों ने मिलकर घर के कामों का बंटवारा कर लिया. वो खाना बनाता है, मैं बर्तन धोती हूं, वो पोछा लगता है, मैं सफाई करती हूं. वो कूड़ा बाहर रखता हैं, मैं वॉशरूम साफ करती हूं.’

कोरोना के केस बढ़ने और घर वालों की सेहत को लेकर मैं बहुत परेशान हो गई थी. मैं अपने घर से दूर थी ऐसे में भावनात्मक रूप से भी मुझे जॉर्ज ने बहुत सहारा दिया. उसके साथ रह कर मुझे थोड़ा कम तनाव महसूस होता था. इस चीज की मुझे बहुत जरूरत थी.’

‘हर समय साथ रहना, साथ में शॉपिंग करना और घर के सारे काम मिलकर करना बहुत जल्द मेरे न्यू नॉर्मल लाइफ का हिस्सा बन गया था. इसके बगैर मैं अब अपनी जिंदगी के बारे सोच भी नहीं सकती थी. हालांकि छोटी-मोटी नोंकझोंक हमारे बीच चलती रहती थी. मैं घर से काम करती थी और जॉर्ज को बाहर जाना पड़ता था. मुश्किल होने के बाद भी हमने ये संभाल लिया.’

अंत में महिला ने लिखा, ‘इस तरीके से 11 महीने गुजर जाने के बाद अब मैं उससे अलग होने का सोच भी नहीं सकती. मैंने अपनी पढ़ाई पूरी कर ली है और मुझे यहां एक पार्ट टाइम जॉब भी मिल गई है. कुल मिलाकर मैं खुशी-खुशी कह सकती हूं कि जॉर्ज ने अपना प्रोबेशन पूरा कर लिया है.’

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.