सोने की नथिया और चांदी के मुकुट से हुआ मां का 16 शृंगार, कोलकाता से आए हैं कलाकार

सोलह शृंगार में हर एक शृंगार का अलग अर्थ है। ज्योतिषी बिपेन्द्र माधव ने बताया कि बिन्दी को भगवान शंकर के तीसरे नेत्र से जोड़कर देखा जाता है। सिंदूर सौभाग्य और सुहाग की निशानी है। महावर और मेहंदी को प्रेम से जोड़कर देखा जाता है। काजल बुरी नजर से बचाता है।

सोने की नथिया और चांदी के मुकुट से हुआ मां का शृंगार
नवरात्र में मां दुर्गा की विशेष पूजा होती है। माता रानी का सोलह शृंगार किया जाता है। ऐसी मान्यता है कि इससे घर में सुख और समृद्धि आती है और अखंड सौभाग्य का वरदान भी मिलता है। ऐसे में राजधानी के पूजा-पंडालों में माता रानी का भव्य शृंगार किया गया है। उनकी सुंदरता देखते बन रही है। कुछ पूजा समितियों ने मां को सोने की नथिया और चांदी के मुकुट से किया है। इसके अलावा लाल चुनरी, मांगटीका, चूड़ी, बिछिया, इत्र, सिंदूर, महावर, बिंदी, मेहंदी, काजल, चोटी, गले के लिए माला, पायल, नेलपॉलिश, लाली, चोटी में लगाने वाला रिबन, कान की बाली से सुशोभित किया है।

डेढ़ लाख की आई लागत : दुर्गा पूजा नवयुवक संघ पीरमुहानी के अध्यक्ष अर्जुन यादव ने बताया कि हमारे पूजा-पंडाल में मां दुर्गा का सोलह शृंगार हुआ है। मां के नाक की नथिया सोने की है। साड़ी, मांगटीका, चूड़ी, बिछिया समेत अन्य सामान पटना सिटी से मंगाए गए हैं। मां को 108 अड़हुल फूल की माला से सजाया गया है। इस पर डेढ़ लाख रु खर्च हुए हैं। कोलकाता के करीगर जगरनाथ पाल और पटना के करीगर मन्नू ने मां को सजाया है। यहां के पंडित बृजभूषण पाठक ने बताया कि सुख और समृद्धि के लिए माता का शृंगार किया जाता है। इस बार माता का शृंगार लोगों के बेहतर स्वास्थ्य की कामना से भी किया गया है।

माथे पर चांदी का मुकुट चमक रहा
दुर्गा पूजा समिति आनंदपुरी में मां के माथे पर चांदी का मुकुट चमक रहा है। मां को बुटीक साड़ी पहनाई गई है और नाक में सोने की नथिया है। एक हजार एक अड़हुल के फूल की माला बनाई गई है। समिति के हर्ष वर्द्धन ने बताया कि पटना सिटी के कारीगर बुद्धन ने मां का शृंगार किया है। इस पर 60 से 70 हजार रुपये खर्च आया है। कालीबाड़ी बंगाली अखाड़ा के अध्यक्ष अमित सिन्हा ने बताया कि मां का शृंगार 50 हजार की लागत से हुआ है। मां को बनारसी साड़ी पहनाई गई है। कोलकाता के कारीगरों ने मां को सजाया है।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WHATTSUP, YOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.