पटना में लाइव आत्मह’त्या, ज’ल्लाद बनी मां, पहले छोटे को फिर बड़े को फेंका, अंत में खुद कू’द गई

बिक्रम में मां ने अपने 2 बच्चों को गठरी की तरह एक-एक कर कुएं में फेंका फिर खुद भी छलांग लगाई, तीनों की मौत : बिक्रम में असपुरा स्थित धर्मकांटा के समीप रविवार को मानवता को झकझोर देने वाली घटना हुई। ससुराल में कलह और प्रताड़ना से तंग आकर एक मां ने अपने दो मासूम बच्चों को एक-एक कर गठरी की तरह कुएं में फेंका और इसके बाद खुद भी उसी में कूदकर आत्महत्या कर ली। दोनों बच्चों की भी मौत हो गई। मृतका की उम्र 28 साल है।

वह यहां के रानीतालाब थाना क्षेत्र के रघुनाथपुर मठिया गांव निवासी लाला यादव की पुत्री निशा देवी थी। उसकी ससुराल दुल्हिन बाजार के हरेरामपुर गांव में थी। नीरज कुमार से उसकी शादी 11 मई, 2018 को हुई थी। मृतिका के भाई प्रद्युम्न व नीतीश ने पुलिस को बताया कि उसकी बहन मायके में ही थी। शनिवार की रात निशा की पति नीरज से फोन पर चार घंटे तक बात हुई थी। उसने उसे बिक्रम बुलाया था। रविवार को सुबह में वह बच्चों आयुष (2 वर्ष) एवं अंकित (3 माह) के साथ निकली थी। इस बीच क्या हुआ, हमलोगों काे पता नहीं। दोनों ने बताया कि ससुराल में निशा से रुपयों की मांग की जाती थी। छठ के दो दिन पूर्व ससुरालवालों ने जान से मारने की कोशिश की थी।

दोनों बच्चों के साथ महिला: दोपहर 12:38 बजे महिला कुएं के पास पहुंची। एक बच्चा गोद में, दूसरा बगल में। छोटे बेटे को पहले फेका: महिला ने अपनी गोद मेें लिए तीन माह के अंकित को कुएं में डाल दिया। फिर बड़े को कुंए में डाला : दूसरे बेटे आयुष के दोनों हाथों को पकड़कर महिला ने कुएं में फेंक दिया। अंत में…खुद भी लगाई छलांग: दोनों बच्चों के बाद महिला ने खुद भी कुएं में कूदकर खुदकुशी कर ली।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WHATTSUP, YOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *