मधुबनी कांड में सुशील मोदी के गाल पर तमाचा, मृतक के पिता ने कहा, लालू-तेजस्वी को किया जा रहा बदनाम

PATNA : मधुबनी के बेनीपट्टी हत्याकांड मामले में राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी का एक बयान चर्चा में है। सुशील मोदी ने राजेश यादव नाम के एक स्थानीय नेता पर इस पूरी साजिश को रचने का आरोप लगाया है। कहा है कि उसे खुद नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव संरक्षण दे रहे हैं। इसी बहाने इलाके में जातीय संघर्ष को हवा देकर राजद अपनी राजनीति कर रहा है। मोदी के इस बयान पर अब हत्याकांड में अपने बेटों-भतीजों को खो चुके सुरेंद्र सिंह का जवाब आया है। सिंह ने इस बात को सिरे से खारिज किया है कि कोई उन्हें संरक्षण दे रहा है। उन्होंने यह भी सवाल किया कि तेजस्वी यादव, राजेश यादव तो सांत्वना देने भी आए, आप उनसे पहले क्यों नहीं आए।

सुरेंद्र सिंह का एक वीडियो सामने आया है जिसमें वे कह रहे हैं कि सुशील मोदी जी उल्टा सीधा जवाब दे रहे हैं। मेरा पूरा परिवार समाप्त हो गया है। जो बचे वो गया गए हैं श्राद्ध करने। वे कह रहे हैं कि राजेश यादव हमें संरक्षण दे रहा है। वो तो तेजस्वी यादव के साथ हमें सांत्वना देने आए थे। मैं किसी को बुलाने नहीं गया था। तेजस्वी यादव तो मेरे घर आ गए, उनसे पहले आप क्यों नहीं आए?

सुशील मोदी ने क्या कहा है

बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने गुरुवार को सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया। इसमें उन्होंने कहा – बेनीपट्टी राजद के प्रखंड अध्यक्ष व प्रखंड प्रमुख पति राजेश यादव ने अपनी राजनीतिक महत्त्वाकांक्षा की पूर्ति के लिए जातीय तनाव भड़काने की साजिश रची थी। उसने सुरेंद्र सिंह और प्रवीण झा के परिवारों को लड़ाई के लिए उकसाया। उसकी चाल थी कि दोनों परिवार लड़े-मरे तो तालाब पर उसका वर्चस्व कायम रहेगा। इलाके के मछुआरा समिति के डम्मी सदस्यों के माध्यम से थोड़े समय पहले तक विवादित तालाब पर उसका कब्जा था। वह लगातार प्रवीण झा, सुरेन्द्र सिंह और तेजस्वी यादव के सम्पर्क में रहा है। पुलिस इसकी जांच करे तो सब खुलासा हो जाएगा। मधुबनी और घटना स्थल के आसपास कहीं भी जातीय तनाव नहीं है, मगर राजद इसी राजेश यादव के माध्यम से पूरे जिले में जातीय तनाव भड़काने की कोशिश कर रहा है।

अगर आप हमारी आर्थिक मदद करना चाहते हैं तो आप हमें 8292560971 पर गुगल पे या पेटीएम कर सकते हैं…. डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *