पहले मैट्रिक-इंटर परीक्षा में बनी टॉपर, फिर UPSC में 5वीं रैंक लाकर बनी IAS, अफसर बिटिया को सलाम

इंजीनियरिंग छोड़ UPSC क्रैक किया, पहले प्रयास में IAS बनी, ऐसे की थी एग्जाम की तैयारी : सृष्टि जयंत देशमुख ने साल 2018 की यूपीएससी परीक्षा में पहली बार में ही ऑल इंडिया 5वीं रैंक हासिल की थी. इसके बाद, वह आईएएस अधिकारी बनीं. सृष्टि 1995 में जन्मी हैं और मध्य प्रदेश के भोपाल के कस्तूरबा नगर की रहने वाली हैं. सृष्टि ने यूपीएससी परीक्षा की तैयारी के लिए रोज़ाना 6-7 घंटे पढ़ाई की थी. उन्होंने बताया था कि अख़बार पढ़ने और राज्यसभा टीवी देखने से उन्हें तैयारी में काफ़ी मदद मिली. इसके अलावा, ऑनलाइन अध्ययन सामग्री भी मददगार रही. सृष्टि को संगीत सुनना बहुत पसंद है और वह रोज़ाना योगा भी करती हैं.

सृष्टि देशमुख 28 मार्च 1996 को भोपाल में जन्मी थीं। कस्तूरबानगर की रहने वाली सृष्टि कार्मल कॉन्वेंट स्कूल में पढ़ीं। इंजीनियरिंग की डिग्री ली। CBSE 12वीं में 93.2 फीसदी और 10वीं में 10 CGPA लेने वाली सृष्टि शुरू से ही होनहार स्टूडेंट रही हैं। सृष्टि के पिता जयंत देशमुख इंजीनियर हैं। मां प्राइवेट स्कूल टीचर हैं। IAS अधिकारी नागार्जुन बी गौड़ा से अप्रैल 2022 में सृष्टि ने शादी की है। दोनों लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी (LBSNAA) मसूरी में मिले थे। दोनों ने एक दूसरे को करीब 2 साल डेट किया और फिर शादी के बंधन में बंधे।

पहले प्रयास में UPSC क्रैक करके IAS बनी सृष्टि युवाओं का रोल मॉडल हैं। उनके लाखों प्रशंसक हैं। जहां वे अपने जनसेवा कार्यों के चलते कुशल प्रशासनिक अधिकारी के रूप में लोकप्रिय हैं। वहीं युवाओं को सिविल सर्विसेज एग्जाम की तैयारी के टिप्स भी वे अकसर अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर देती रहती हैं। उन्होंने ‘द आंसर राइटिंग मैनुअल’ नामक किताब लिखी है, जो UPSC मेन्स के लिए गाइड है। एग्जाम लिखने का तरीका और तैयारी की रणनीति इसमें बताई गई है। फ्लो चार्ट्स के साथ अपने नोट्स भी ऐड किए हैं।

सृष्टि ने UPSC क्रैक करने के बाद पहले इंटरव्यू में अपनी तैयारी के बारे में भी बताया था। उन्होंने बताया कि एग्जाम की तैयारी करने के लिए उन्होंने अखबार पढ़े। राज्यसभा टीवी चैनल देखा। ऑनलाइन स्टडी मैटेरियल से काफी मदद मिली। सृष्टि के UPSC में टोटल मार्क्स 1068 थे। मेन्स में 895 और इंटरव्यू में 173 मार्क्स थे। सृष्टि युवाओं को टिप्स देते हुए कहती हैं कि सिविल सविर्सेज एग्जाम की तैयारी के लिए प्लानिंग की जरूरत है। फिजिकली फिट और मेंटली स्ट्रॉन्ग रहें। योग और मेडिटेशन जरूर करें, ताकि शांत रहें।

सेल्फ कॉन्फिडेंस जरूरी है। नेगेटिव लोग डिमोटिवेट कर सकते हैं। ऐसे लोगों से दूरी बनाकर अपने लक्ष्य पर फोकस करें। फिजिकली और मेंटली थकाने वाली एक्टिविटी न करें। अपने मन और शरीर को पूरा आराम दें। NCERT की किताबों से ही तैयारी करें। 17-18 घंटे पढ़ने की जरूरत नहीं, बस डेली 5 से 6 घंटे दिल लगाकर पढ़ाई करेंगे तो काफी मदद मिलेगी। अपने ऊपर पूरा भरोसा होना चाहिए। किसी भी कारण से अपना आत्मविश्वास कम न होने दें। अगर ऐसा हुआ तो तैयारी में ध्यान ही नहीं लगा पाएंगे।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WHATTSUP,YOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *