दलाल मीडिया को लोगो की भूख और तड़प बाद में दिखी, पहले दिखी मस्जिद की मीनारें

लॉकडाउन ने वैसे तो सभी को असहज कर दिया है लेकिन अपने घरों से दूर दूसरे प्रदेशों में फंसे दिहाड़ी मजदूरों के सामने विकट समस्या खड़ी हो गई है। उनके सामने जीवन-मरण के हालात उत्पन्न होने लगे हैं। और यही वजह है कि आज बांद्रा स्टेशन पर हजारों लोगों की भीड़ चली आई।

डेली बिहार डॉट कॉम लगातार उन मजदूरों के दुख और व्यथा को आपके सामने लाता रहा है। ऐसे सैकड़ों लोग है जिनके पास रहने के लिए छत नहीं है। ऐसे हजारों लोग है जिनके घर दो वक़्त का खाना नहीं बनता है। ऐसे कई जगहें है जहां एक 10/10 के कमरे में 15-20 लोग मजबूरन रह रहे है।

वो सभी लोग अपने घर आना चाहते है। प्रधानमंत्री जी द्वारा 21 दिनों के लॉक डाउन का पालन करने के बाद अब ये गरीब मजदूर अपने घर लौटना चाहते है। और इसी कड़ी में अफवाह के साए तले हजारों मजदूरों का हुजूम बांद्रा स्टेशन के बाहर आ गया।

लेकिन दलाल मीडिया के पत्रकारों को भीड़ बाद में दिखी, बांद्रा वेस्ट में स्टेशन के बाजू की मस्जिद पहले दिख गई। बिके हुए मीडिया समूहों को लोगो की भूख और तड़प बाद में दिखी, पहले उन्हें मस्जिद की मिनारे नज़र आने लगी।

खैर, जब बांद्रा को पहले से ही हॉटस्पॉट घोषित किया जा चुका है प्रशासन द्वारा, इसके बावजूद लोगो की भीड़ ये बता दे रही है कि वे कितने उत्सुक है अपने घर परिवार से मिलने के लिए। प्रधानमंत्री जी ने 21 दिनों का समय मांगा था, अब उन्हें ही कोई व्यवस्था करनी चाहिए

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *