करोड़पति बाप के बेटे ने बिजनेस छोड़ मांजे बर्तन, अब आनंद्र महिंद्रा ने दिया अपनी कंपनी में नौकरी का ऑफर

गुजरात में पिता के करोड़ों का तेल व्यवसाय छोड़कर शिमला की होटल में बर्तन मांजने वाले द्वारकेश ठक्कर को उद्योगपति और महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा की ओर से इंटर्नशिप करने का ऑफर मिला है। कुछ दिनों पहले द्वारकेश को होटल में प्लेट धोते और पत्थर पर सोते पाया गया था।

द्वारकेश परिवार को अपनी क्षमता साबित करना चाहता था। उसकी खबर अखबार में छपने के बाद आनंद महिंद्रा ने ट्विटर पर लिखा- ‘मैं इस युवा का प्रशंसक हूं। वह अपने बल पर आगे बढ़ना चाहता है। अभी ऐसा लगता है कि उसने सनक में घर छोड़ दिया लेकिन भविष्य में वह एक सफल, आत्मनिर्भर उद्योपति हो सकता है। मैं अपनी कंपनी महिंद्रा राइज में इंटर्नशिप का ऑफर देकर बहुत खुश होऊंगा।’


इस ऑफर पर द्वारकेश के पिता राकेश ठक्कर ने कहा- द्वारकेश का केवल एक सपना है। खुद के प्रयासों से एक दिन बड़ा आदमी बनना। उन‍होंने अपने बेटे की ईमानदारी के बारे में कहा कि द्वारकेश ने मात्र 1250 रुपए लेकर घर छोड़ा था। इसमें से उसने 1070 रुपए टिकट पर और 20 रुपए पानी की बॉटल पर खर्च किया। बाकी बचे हुए 160 रुपए मुझे लौटा दिए। उसके पास और कुछ नहीं था।

 

यह द्वारकेश का मेहनती रवैया और विपरीत परिस्थिति में खुद को बचाए रखने की क्षमता को दर्शाता है। उधर, द्वारकेश ने इस ऑफर पर कहा कि उसने अभी अपने भविष्य के बारे में कोई फैसला नहीं किया है। द्वारकेश ने कहा, ‘आनंद महिंद्रा का ऑफर मेरे लिए एक बड़ा अवसर है। यदि महिंद्रा राइज कंपनी से किसी ने संपर्क किया तो मैं निश्चित रूप से इस बारे में सोचूंगा।’ 14 अक्टूबर को द्वारकेश खुद को साबित करने के लिए शिमला चला गया था।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *