मधुबनी के सौराठ में बनकर तैयार हुआ आलिशान ​मिथिला पेंटिंग संस्थान, सीएम नीतीश ने किया शुभारंभ

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को मधुबनी वासियों को मिथिला चित्रकला संस्थान और मिथिला ललित संग्रहालय सौंपा। सीएम ने पटना से वर्चुअल माध्यम से उद्घाटन किया। करीब 40.75 करोड़ की लागत से बने इस दोनों भवनों में तमाम तरह की सुविधाएं हैं। इसके अलावा आटीआई भवन, जयनगर, महिला आटीआई भवन मधुबनी, कम्प्यूटर डाटा केंद्र सह रिकॉर्ड रूम, खुटौना आदि का भी सीएम ने उद्घाटन किया। मौके पर उद्घाटन के मौके पर मिथिलाचित्र कला संस्थान सौराठ के ऑडिटोरियम में समारोह आयोजित किया गया था।

अपने वर्चुअल संबोधन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि इस संस्थान की परिकल्पना के बाद स्थल चयनित किया गया। दो से तीन बार वे खुद वहां गये। एक-एक स्थल को देखा। यह कार्य और पहले हो जाना चाहिए था, पर अब काम पूरा हो जाने की उन्हें अपार खुशी है। मालूम हो कि मिथिला चित्रकला संस्थान का लोगों को दस वर्षों से इंतजार था। इस संस्थान में चित्रकला में डिग्री व डिप्लोमा कोर्स की सुविधा छात्रों को मिलेगी। 2012 में सेवा यात्रा के दौरान सीएम ने सौराठ में मिथिला पेंटिंग के बढ़ते क्रेज को देखते हुए मिथिला चित्रकला संस्थान के निर्माण की घोषणा की थी।

सर्टिफिकेट व डिप्लोमा कोर्स की होगी पढ़ाई
सीएम नीतीश कुमार ने कहा चित्रकला में डिग्री और डिप्लोमा कोर्स की पढ़ाई के साथ-साथ यहां कई अन्य तरह की सुविधाएं मिलेंगी। यह संस्थान मधुबनी पेंटिंग को व्यवसायिक रूप देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। मिथिला ललित संग्रहालय में प्राचीन और विश्वविख्यात मधुबनी पेंटिंग्स रखी जाएगी। यहां पहुंचकर लोग ये सब चीजें देखेंगे, जानेंगे और सीखेंगे। इस क्षेत्र में ज्ञान होगा उन्हें डिग्री मिलेगी।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WhattsupYOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.