मोबाइल चार्जर ने ली 2 साल की बच्ची की जान, इस देश में एक साल में 355 की करंट से मौत

2 साल की मासूम बच्ची सारा अल्वेस डी अल्बुकर्क को बिजली का झटका लगने के बाद अस्पताल ले जाया गया लेकिन डॉक्टरों की लाख कोशिशों के बाद भी उसे बचाया नहीं जा सका. (सांकेतिक तस्वीर/Getty)

हालांकि रिपोर्ट में यह नहीं बताया गया है कि जिस चार्जर से बच्ची को करंट लगा वो किसी मान्यता प्राप्त ब्रांड का था या नहीं. स्थानीय मेयर इमानुएल गोम्स मार्टिंस ने फेसबुक पर मासूम बच्ची को श्रद्धांजलि दी. (सांकेतिक तस्वीर/Getty)  

बच्ची की मौत पर कई लोगों ने दुख जताया. सोशल मीडिया यूजर विवियन गोम्स फ्रीटास ने लिखा, “रेस्ट इन पीस, छोटी सारा. “अब तुम छोटे पंखों वाली एक नन्ही परी हो. ऊपर से अपनी मां की देखभाल करो.” (सांकेतिक तस्वीर/Getty)

सेलिया पाइवा नाम की सोशल मीडिया यूजर ने लिखा, “ऐसे क्षण होते हैं जब हमें अपनी भावनाओं को व्यक्त करने के लिए शब्द नहीं मिलते हैं, “मैं माता-पिता को यह सदमा सहने की शक्ति मिले इसकी कामना करती हूं. भगवान उनके माता-पिता, रिश्तेदारों और दोस्तों के पीड़ित दिलों को आराम दें.” (सांकेतिक तस्वीर/Getty)

सारा की मौत तब हुई है जब ब्राजील में पिछले साल अकेले बिजली के झटके से 355 मौतें दर्ज की गई हैं. इस घटना से पहले एक 28 वर्षीय युवक की मौत भी करंट लगने की वजह से हो गई थी. (सांकेतिक तस्वीर/Getty)

किट्टीसाक मूनकिट्टी नाम का युवक अपने बेडरूम में मृत पाया गाय था और उसके हाथ और अग्रभाग पर जलने के निशान थे. मृत अवस्था में भी वो अपना हैंडसेट पकड़े हुए था. (सांकेतिक तस्वीर/Getty)

पश्चिमी थाईलैंड के चोनबुरी की रहने वाली उनकी मां रिन्नापोर्न ने 2019 में काम के लिए निकलते समय यह भयानक हादसा देखा था. (सांकेतिक तस्वीर/Getty)  

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.