मोटापा कम करने का आसान तरीका, दस महीने में इस लड़की ने अपना 44 किलो वजन कम कर लिया

वजन को लेकर इंसानों की अलग-अलग समस्याएं हैं. कोई पतलेपन से परेशान होता है तो कोई मोटापे की वजह से मुश्किलों का सामना करता है. ज्यादातर पतले लोग बिल्कुल स्वस्थ रहते हैं, लेकिन मोटापे की वजह से शरीर में कई तरह के रोग घर करने लग जाता है. इतना ही नहीं, बढ़ते वजन से कपड़े भी फिट नहीं बैठते. द लैंसेट जर्नल में पब्लिश एक एनालेसिस के मुताबिक, दुनिया भर में 1 अरब से अधिक बच्चे और वयस्क मोटापे का शिकार हैं. ऐसे में कोई अगर वजन कम करना चाहे, तो ज्यादातर लोग खान-पान पर कंट्रोल करने की सलाह देते हैं. लेकिन एक महिला ने वजन घटाने का एक अलग तरीका अपनाया. ये कोई नया नहीं, बल्कि पारंपरिक तरीका है, जिससे महिला ने 10 महीने में 44 किलो वजन कम कर लिया. कभी ये महिला 108 किलो की हुआ करती थी, लेकिन अब इसका वजन मात्र 64 किलो है. 42 साल की इस महिला का नाम मैरी वाटकिंस (Mary Watkins) है, जो इंग्लैंड के पूर्वी ससेक्स (East Sussex, England) की रहने वाली है.

मैरी स्कूल टाइम से ही मोटापे की शिकार थीं. जब वह अपने बड़े बेटे, फ्रेडी के साथ गर्भवती थीं, तब उन्हें उच्च रक्तचाप (High Blood Pressure) और प्री-एक्लेमप्सिया का पता चला. ऐसे में उन्होंने वजन कम करने के लिए डायटीशिय की सलाह मानने लगीं, जिसमें खान-पान पर कंट्रोल करना शामिल था. उन्होंने कहा, “फ्रेडी का जन्म 7 सप्ताह पहले हुआ था, क्योंकि मेरी नाल से कम रक्त प्रवाह की वजह से उसका विकास रुक गया था. उस दौरान मुझे प्री-एक्लेमप्सिया का पता चला था, जिसमें मेरे मोटापा और उच्च रक्तचाप ने भूमिका निभाई थी. मुझे यह सोचकर दुख होता है कि अगर मेरा वजन ठीक होता तो फ्रेडी का जन्म जल्दी नहीं होता.” इसके बाद मैरी का वजन जब 108 किलो हो गया, तब दोबारा प्रेग्नेंसी के लिए उसे वजन कम करने की सलाह दी गई. तब मैरी ने उपवास करके वजन को कम करने का फैसला किया. इस तरह से वह दूसरे बेटे वाल्टर के गर्भधारण से पहले अपना थोड़ा सा वजन कम कर लिया. मैरी ने कहा कि मुझे पता था कि फिर से मेरा वजन बढ़ेगा.

बढ़ते वजन को रोकने के लिए मैरी ने अपने दोस्तों से सलाह लिया. उन्होंने कहा कि दो छोटे लड़कों की मां के रूप में, मुझे खुद को और अपने स्वास्थ्य को प्राथमिकता देना मुश्किल हो गया था. लेकिन वह जानती थी कि जब फ्रेडी 2016 में स्कूल शुरू करने वाला था तो उसे बदलाव करना होगा. धीरे-धीरे मेरे दोनों बच्चे बड़े हो गए. फ्रेडी जहां 11 साल का है, वहीं वाल्टर 8 साल का हो चुका है. मैरी ने कहा कि इन दोनों के जन्म के दौरान वजन कम करने के मेरे पिछले प्रयासों ने मुझे भूखा और चिड़चिड़ा बना दिया था. ऐसे में दोस्तों ने जब मुझे स्लिमिंग वर्ल्ड में जाने की सलाह दी, तब मुझे लगा कि ये भी वैसा ही कुछ होगा. लेकिन वहां वजन कम करने के तरीकों ने मुझे नई जिंदगी दे दी. वहां पर खान-पान पर कोई प्रतिबंध नहीं था. उन्होंने इतनी तेजी से अपना वजन कम किया कि वो अब स्लिमिंग वर्ल्ड टॉप टार्गेट कंसल्टेंट 2024 में शामिल हो गई हैं.

पसंदीदा खाना खाकर कैसे घटा लिया वजन?
अब आप भी सोच रहे होंगे कि कोई फेवरेट फूड्स खाकर कैसे अपना वजन कम कर सकता है? ऐसे में मैरी ने बताया कि स्लिमिंग वर्ल्ड में वजन घटाने और उसे नियंत्रित रखने के लिए अलग-अलग तरीकों का इस्तेमाल किया जाता है, जिसमें फिजिकल एक्टिविटिज महत्वपूर्ण है. उन्हें वहां पर एक्सरसाइज के साथ-साथ दौड़ने को कहा गया. धीरे-धीरे 10 महीने में वे 10 किलोमीटर तक दौड़ने लगीं. इस तरह से उनका वजन 44 किलो तक कम हो गया. मैरी ने कहा कि वजन कम करके मुझे बहुत सकारात्मक महसूस हुआ. मैं ऊर्जा से भरपूर थी. मैं इस भावना को बोतल में बंद करना चाहती थी और इसे उन सभी को देना चाहती थी जो कभी अपने वजन से जूझ रहे थे. स्वस्थ भोजन करना और व्यायाम करना अब मेरे स्वभाव का हिस्सा है और इसकी वजह स्लिमिंग वर्ल्ड समूह है, जिसने मुझे इस मुकाम तक पहुंचने में मदद की.

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WHATTSUP,YOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *