अब तेरा क्या होगा मुकेश सहनी, BJP से दुशमनी लेकर बुरे फंसे सन आफ मल्लाह, कैसे जाएंगे विधाान परिषद

PATNA : राजनीति में कहा जाता है कि जो भी कीजिए सोच समझ कर कीजिए। आपकी एक गलती ना सिर्फ आपकी लुटिया डूबो सकती है बल्कि पालटिकल कैरियर को समाप्त कर सकती है। ताजा अपडेट बिहार के सन आफ मल्लाह मुकेश सहनी को लेकर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि उनकी सदस्यता बहुत जल्द खत्म होने वाली है। उनकी पार्टी के पास अब एक भी विधायक नहीं है। ऐसे में सवाल उठता है कि वह दोबार से विधान परिषद कैसे जाएंगा। कुल सात सीटों का चुनाव होना है ऐसे में कौन उनको अपना समर्थन देगा। एक तरह से कहा जाए तो भाजपा को आंख दिखाना उनको भारी पड़ गया।

विप की 7 सीटों पर चुनाव 20 को, सवाल-सहनी का क्या…

बिहार विधान परिषद की 7 सीटों के लिए चुनाव की घोषणा हो गई है। 20 जून को मतदान होगा। चुनाव आयोग ने बुधवार को तारीखों का ऐलान कर दिया। विधान परिषद के 7 सदस्यों का कार्यकाल 21 जुलाई 2022 को समाप्त हो रहा है। इसको देखते हुए आयोग ने चुनाव की घोषणा की है। जिन 7 सीटों के लिए चुनाव की घोषणा की गई है, उनमें वीआईपी के संस्थापक मुकेश सहनी की भी एक सीट है। सबसे बड़ा सवाल यह है कि उनका क्या होगा? पहले उनका मंत्री पद गया, अब मेंबरी यानी सदस्यता खतरे में है।

सात में से अभी जदयू चार, भाजपा-राजद की 1-1 सीट
मुकेश के अलावा विधान परिषद के 6 अन्य सदस्य अर्जुन सहनी, मो.कमर आलम, गुलाम रसूल, रोजिना नाजिश, रणविजय कुमार सिंह और सीपी सिंह उर्फ चंद्रेश्वर प्रसाद सिन्हा हैं जिनका कार्यकाल 21 जुलाई को पूरा हो जाएगा। इनमें जदयू के 4 तथा 1-1 विधान पार्षद राजद व भाजपा के हैं। चुनाव की अधिसूचना 2 जून को जारी होगी।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WhattsupYOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.