मां के निधन पर 6 माह तक लोगों को भोज खिलाते रहे मुकेश सहनी, रातों रात बिहार की राजनीति में चमके

बॉलीवुड में भी हाथ आजमा चुके हैं VIP के मुखिया मुकेश सहनी, करोड़ों की प्रॉपर्टी के हैं मालिक; ऐसी है निज़ी ज़िंदगी

Mukesh Sahani: जैसे-जैसे बिहार में चुनाव का दिन नजदीक आ रहा है, पार्टियों में विलय व फेरबदल के किस्से भी चर्चित हो रहे हैं। हाल में ही विकासशील इंसाफ पार्टी के मुकेश सहनी महागठबंधन से अलग होकर एनडीए में शामिल हो गए। उनकी पार्टी वीआईपी को भाजपा ने अपने कोटे से चुनाव लड़ने के लिए 11 विधानसभा सीटें और एक एमएलसी सीट दी है। बिहार के दरभंगा जिले के सुपौल बाजार निवासी मुकेश सहनी का राजनैतिक इतिहास केवल 7 साल पुराना ही है। साल 2013 में उन्होंने राजनीति में कदम रखा था। उससे पहले तक वो मुंबई में बॉलीवुड इंडस्ट्री में सेट डिजाइनर थे। आइए जानते हैं उनसे जुड़ी खास बातें –

19 साल में घर से भागे सहनी: विभिन्न मीडिया रिपोर्ट्स में इस बात का जिक्र मिलता है कि शुरुआती दिनों में मुकेश सहनी के घर की माली हालत कुछ खास नहीं थी। बड़े सपने देखने वाले सहनी 19 साल की उम्र में ही घर छोड़कर काम की तलाश में मुंबई चले गए। जहां कुछ समय तक बतौर सेल्समैन काम किया। इस दौरान उनका कई लोगों के बीच उठना-बैठना हुआ। इसके बाद ही मुकेश ने बॉलीवुड में कदम रखा।

देवदास से मिली पहचान: शाहरुख खान की सबसे पॉपुलर फिल्मों में से एक देवदास का सेट डिजाइन करने के बाद मुकेश सहनी बतौर सेट डिजाइनर सबकी नजरों में आए। इसके बाद उन्हें काम मिलने लगा। कुछ ही समय में सहनी ने अपनी कंपनी जिसका नाम मुकेश सिनेवर्ल्ड प्राइवेट लिमिटेड है, भी खोल ली। सलमान खान की फिल्म बजरंगी भाईजान का सेट भी इन्होंने ही डिजाइन किया है।

2013 में ली पॉलिटिक्स में एंट्री: बॉलीवुड में करोड़ों रुपये कमा कर मुकेश सहनी ने साल 2013 में राजनीति की ओर रुख किया। मगर उन्हें असली पहचान साल 2015 में मिली। माना जाता है कि पैसों के दम पर ही सहनी ने पॉलिटिक्स में एंट्री की। 2015 में बीजेपी के लिए चुनाव प्रचार करने के बावजूद हार मिलने के बाद भाजपा साहनी से पल्ला झाड़ने लगी। इसके बाद राजद के साथ वो महागठबंधन में शामिल हुए।

खुद को कहते हैं ‘सन ऑफ मल्लाह’: मुकेश सहनी मल्लाह समुदाय से आते हैं, प्राप्त जानकारी के अनुसार राज्य में करीब 6 प्रतिशत आबादी इस समुदाय के लोगों की है। इसके तहत 10 जातियां हैं, जिन्हें अति पिछड़ी जातियों में शामिल किया जाता है। सहनी खुद को ‘सन ऑफ मल्लाह’ कहकर ही संबोधित करते हैं। बता दें कि महागठबंधन में शामिल होने के लिए सहनी ने 2018 में अपनी पार्टी वीआईपी का गठन किया था।

करोड़ों के मालिक हैं सहनी: मुकेश सहनी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार वो आठवीं पास हैं। लेकिन, फिर भी करोड़ों रुपये के मालिक हैं। जमीन-जायदाद और मकानों की बात करें तो उनके पास मुंबई में एक घर है जिसकी कीमत तकरीबन 3 करोड़ रुपये बताई जाती है। उनके जो ब्यौरा दिया है, उसके मुताबिक एसेट्स और लायाबिलिटीज को मिलाकर उनके पास करीब 12 करोड़ की संपत्ति है। मुकेश सहनी की पत्नी का नाम कविता सहनी है। उनके दो बच्चे हैं रणवीर सहनी और मुस्कान सहनी। इसके अलावा, परिवार में एक भाई संतोष और बहन रिंकू सहनी है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *