मुस्लिम लड़की शमा परवीन को हुआ हिंदू लड़के से प्यार, शादी करने के बाद अपना लिया सनातन धर्म

मुस्लिम युवती ने हिंदू युवक से रचाई शादी, अपनाया सनातन धर्म, नाम भी बदला : बरेली में रहने वाली मुस्लिम युवती शम्मा परवीन ने प्यार की खातिर धर्म परिवर्तन कर प्रेमी हिंदू युवक शिवम वर्मा से शादी कर ली. बिहार की रहने वाली युवती ने प्रेम की खातिर धर्म बदला और अपना नाम भी बदल लिया.

शम्मा परवीन ने अपना नाम पूनम देवी रखा है. उनके परिवार को भी शादी से कोई दिक्कत नहीं है. शिवम वर्मा बलिया का रहने वाला है. उनकी मुलाकात एक साल पहले बिहार के जनपद जगदीशपुर औरंगाबाद सलाउद्दीन की बेटी शम्मा परवीन से हुई थी. फोन पर बात होने लगी और धीरे-धीरे प्यार परवान चढ़ने लगा. दोनों ने अपने रिश्ते को नाम देने का फैसला किया और शादी रचाने की योजना बनाई. शम्मा परवीन ने अपने प्यार के लिए इस्लाम धर्म छोड़ दिया और सनातन धर्म अपना लिया.

दोनों उत्तर प्रदेश के बरेली स्थित अगस्त्य मुनि आश्रम के आचार्य पंडित केके शंखधार के पास पहुंचे और शादी रचाने की बात कही. दोनों ने शादी कर ली. शमा परवीन का शुद्धिकरण कराया गया. गंगा जल छिड़ककर मंत्रोच्चारण के बाद हिंदू धर्म में वापसी की और फिर शादी करवाई.

दोनों ने सात फेरे लेकर जीने-मरने की कसम खाई. शादी के समय पति शिवम वर्मा के पूनम देवी के मांग में सिंदूर भरा और दोनों ने आचार्य केके शंखधार से आशीर्वाद प्राप्त किया. शम्मा परवीन उर्फ पूनम देवी ने हाइस्कूल किया है और शिवम वर्मा ने 8वीं पास है. शिवम सोने-चांदी के आभूषण बनाने का काम करता है.

सात फेरे लेने के बाद शम्मा परवीन उर्फ पूनम देवी ने कई चौंकाने वाली बातें बताईं. उसने कहा, ‘हिंदू धर्म अपना कर घर वापसी की है. मेरे पूर्वज हिंदू थे. इस्लाम में इज्जत भी नहीं मिलती है. मुस्लिम धर्म में कुरीतियों के चलते बिना किसी दबाव के हिंदू धर्म अपनाया है. कहा कि मुस्लिम धर्म में चाचा के बेटे, मौसी के बेटे से भी शादी हो सकती है, यह बात उसे अच्छी नहीं लगती थी. शम्मा परवीन ने आरोप लगाया कि गो मांस भी खिलाया जाता है.’

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *