बिहार में मरकज यात्रियों पर तेज हुई राजनीति, विपक्ष बोला- सीरियस नहीं है नीतीश सरकार

Patna: दिल्ली में तबलीगी मरकज में शामिल लोगों के बड़े संख्या में को/रोना पॉजिटिव पाए जाने और यहां से कई लोगों के बिहार के विभिन्न इलाकों में आने और घूमने के खबर मिलने के बाद जहां प्रशासन में हड़/कंप मचा हुआ है, वहीं राजनीति भी तेज हो गई है. विपक्ष ने सरकार को पूरी तरह फेल बताया है तो सरकार सफाई देने में लगी है.

कांग्रेस ने खड़ा किया सवाल
कांग्रेस नेता प्रेमचंद्र मिश्रा ने सरकार पर ह/मला बोलते हुए कहा के को/रोना मामले में सरकार पूरी तरह बेन/काब हो गई है. न तो समय पर कोई कदम उठाया और न ही मरकज मामले में समय पर कोई जानकारी ली. कांग्रेस नेता ने कहा कि मरकज के कई लोग पकड़ आने के बावजूद प्रशासन द्वारा उनका सैंपल जांच के लिए नहीं लेना बड़ी विफलता है. कोरोना मामले में सरकार ने सही समय पर कोई कदम तक नहीं उठाया.

आरजेडी ने कहा-कैजुअल ले रही सरकार

आरजेडी सांसद मनोज मनोज झा ने कहा कि साबित होता है कि सरकार अभी भी कई बातों को कैजुअल ले रही है. ये संकेत है कि आप अभी भी तैयार नहीं हैं. अब भी वक्त है सभी को ट्रेस कर सकते हैं. संदेश दीजिए कि आप संवे/दनशील हैं. केवल माहौल बनाकर कुछ संस्थानों को निशाने पर लेना उचित नहीं है.

जेडीयू ने बचाव में मोर्चा संभाला
मररकज में शामिल लोगों के बिहार आने के मामले में विपक्ष के आरो/पों पर जेडीयू बचाव में उतर आई है. जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि बिहार सरकार ओर मा/मलों पर गह/नता से नजर बनाए हुए है. जो लोग भी जहां हैं, उन्हें ट्रेस किया जा रहा है. विपक्ष के आरोपो पर राजीव रंजन ने कहा कि ये राजनीति का वक्त नहीं है.

सभी बिहार नहीं आए- ़डीजीपी
इस बीच डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे (DGP Gupteshwar Pandey) ने कहा है कि मरकज के 86 लोगों सभी बिहार नहीं आए हैं. डीजीपी ने बुधवार को मीडिया से बात करते हुए कहा कि जो लोग आए हैं उनको चिन्हित किया जा रहा है. कई लोग अब भी दिल्ली और लखनऊ में ही हैं. प्रदेश में एटीएस को भी उन्हें चिन्हित करने के काम में लगाया गया है. उन्होंने ये भी कहा कि 57 लोग विदेशी भी थे जिनकी मॉनिटरिंग की जा रही है और सभी की जांच की जाएगी.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.