शोरूम से बाहर आई Activa और पुलिस ने काट दिया 1 लाख रुपये का चालान

शोरूम से बाहर आई Activa और पुलिस ने काट दिया 1 लाख रुपये का चालान! जानें मामला : देश भर में इस समय नए मोटर व्हीकल एक्ट के तहत भारी चालान काटने के मामले लगातार चर्चा में है। दोपहिया वाहन से लेकर चार पहिया यहां तक की ट्रकों पर भी ट्रैफिक नियमों का उलंघन करने के चलते भारी चालान काटा जा रहा है। ताजा मामला ओडिसा से सामने आया है जहां पर ब्रांड न्यू Honda Activa का ट्रैफिक पुलिस ने 1 लाख रुपये का चालान काटा है।

दरअसल, ये जुर्माना पुलिस ने Honda Activa को बेचने वाले डीलरशिप पर लगाया है। जानकारी के अनुसार ओडिसा के कटक शहर में बीते दिनों वाहन चेकिंग के दौरान अरूण पांडा नाम के युवक को रोका गया था। इस दौरान ट्रैफिक पुलिस ने पाया कि Honda Activa स्कूटर पर रजिस्ट्रेशन नंबर नहीं लिखा हुआ था।

जांच में पता चला कि उक्त व्यक्ति ने हाल ही में स्कूटी खरीदी थी और डीलरशिप ने उन्हें अभी ​रजिस्ट्रेशन नंबर प्रदान नहीं किया था। उक्त स्कूटर बीते 28 अगस्त को कविता पांडा के नाम पर खरीदा गया था। जिसके बाद पुलिस बिना रजिस्ट्रेशन के वाहन बेचने के मामले में उक्त डीलरशिप पर 1 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है।

हालांकि इस बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकी है कि ट्रैफिक पुलिस ने स्कूटर चालक पर कोई जुर्माना लगाया है या नहीं। यहां तक कि आरटीओ अधिकारियों ने डीलरशिप का लाइसेंस रद्द करने की सिफारिश भी की है। बता दें कि, पुराने मोटर व्हीकल एक्ट में ही ये प्रावधान किया गया है कि, डीलरशिप बिना रजिस्ट्रेशन और सभी दस्तावेजों को वाहनों की बिक्री नहीं कर सकते हैं और न ही वाहन को ग्राहक के हाथों सौंप सकते हैं। ये एक गंभीर मामला है।

मोटर व्हीकल एक्ट के अनुसार, डीलर द्वारा ग्राहकों को वाहन डिलीवरी से पहले बीमा, पंजीकरण संख्या और प्रदूषण प्रमाण पत्र जैसे सभी जरूरी दस्तावेज उपलब्ध कराने होंगे। लेकिन इस मामले में, डीलरशिप द्वारा अनिवार्य प्रक्रिया को पूरी तरह से नजरअंदाज कर दिया गया था। स्कूटर को बिना किसी दस्तावेज़ के ग्राहक को वितरित किया गया, जो एक गंभीर अपराध है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *