CM नीतीश की मनमानी नहीं चलेगी, इंजीनियरों ने कहा-निजीकरण पर शीघ्र श्वेतपत्र जारी करे बिजली कंपनी

CM नीतीश की मनमानी नहीं चलेगी, इंजीनियरों ने कहा-निजीकरण पर शीघ्र श्वेतपत्र जारी करे बिजली कंपनी

बिजली इंजीनियराें ने बिजली कंपनी प्रबंधन से अादित्य याेजना के तहत हाेने वाले निजीकरण की नीति काे स्पष्ट करने के साथ श्वेतपत्र जारी करने की मांग की है। केदार भवन में बुधवार काे कामगार पदाधिकारी अभियंता संयुक्त संघर्ष माेर्चा के बैनरतले 8 संगठनों ने संयुक्त रूप से श्वेतपत्र जारी करने की मांग की।


पावर इंजीनियर्स सर्विस एसोसिएशन के महासचिव सह संघर्ष माेर्चा के संयोजक सुरेंद्र कुमार कहा, श्वेतपत्र जारी करने की मांग काे लेकर अाठ संगठनों के नेताओं के संयुक्त हस्ताक्षर से बिजली कंपनी प्रबंधन काे पत्र भेजा जाएगा। यदि बिजली कंपनी प्रबंधन द्वारा श्वेतपत्र जारी नहीं किया जाता ताे बिहार के इंजीनियर अाैर कर्मचारी 11 जनवरी की सुबह 6 से अगले दिन सुबह 6 बजे तक हड़ताल पर रहेंगे।

पावर जूनियर इंजीनियर एसेसिएशन के महासचिव उपेंद्र कुमार चाैधरी ने कहा, बैठक के दाैरान 27 जनवरी काे शांतिपूर्ण तरीके से अपने मांगाें काे लेकर प्रदर्शन कर रहे बिजली इंजीनियर, पदाधिकारियों अाैर कर्मियों पर लाठीचार्ज की घटना काे लेकर निंदा प्रस्ताव पास किया गया है। संयुक्त संघर्ष माेर्चा द्वारा गुरुवार काे बिजली कंपनी प्रबंधन के नाम भेजे जाने वाले पत्र में निंदा प्रस्ताव पारित करने की जानकारी दी जाएगी। बिजली इंजीनियराें पर लाठीचार्ज काे लेकर कई संगठनों ने निंदा प्रस्ताव कर सरकार अाैर बिजली कंपनी के कार्रवाई का विराेध किया है। ऑल इंडिया पावर इंजीनियर्स फेडरेशन के अध्यक्ष शैलेंद्र दुबे ने कहा, केन्द्र सरकार ने राज्याें के बिजली मंत्रियों के कॉन्फ्रेंस में स्पष्ट कर दिया है कि एक अप्रैल से उन्हीं राज्याें काे मदद मिलेगी, जिन राज्य की बिजली कंपनी अापूर्ति का निजीकरण करेंगी। अाॅल इंडिया फेडरेशन अाॅफ पावर डिप्लोमा इंजीनियर्स के महासचिव अभिमन्यु धनकर ने कहा, ऊर्जा मंत्री अाैर मुख्यमंत्री काे पत्र लिखकर विद्युत कामगार पदाधिकारी अभियंता संयुक्त संघर्ष माेर्चा के न्यायोचित मांगाें काे सुनने, बिजली कंपनी प्रबंधन द्वारा हाेने वाले ट्रांसफर पर तत्काल राेक लगाने अाैर पूरे घटनाक्रम की उच्चस्तरीय जांच कराने की मांग की गई है।

बिजली कंपनी प्रबंधन ने निजीकरण के खिलाफ 27 जनवरी काे विद्युत भवन मुख्यालय के सामने प्रदर्शन करने वालाें में शामिल इंजीनियरों अाैर पदाधिकारियों तबादला कर दिया है। इसमें पावर जूनियर इंजीनियर एसाेसिएशन (पेजा) महासचिव उपेंद्र कुमार चौधरी समेत 35 इंजीनियर के साथ तीन लेखा पदाधिकारी शमिल हैं। पेजा महासचिव सह जूनियर इंजीनियर को राजापुर पटना से नाथ नगर भागलपुर, ट्रांसमिशन कंपनी मुख्यालय में पदास्थापित लेखा पदाधिकारी स्निग्धा सोनी को डेहरी ऑन सोन, लेखा पदाधिकारी मुकेश कुमार को पूर्णिया भेजा गया है। पूर्णिया से लेखा पदाधिकारी अमर कुमार भारती को मुख्यालय बुलाया गया है। पेसू स्थित एसकेपुरी में पदस्थापित जूनियर इंजीनियर नवीन कुमार को रामगढ़, पेसू एक्जीबिशन रोड में पदस्थापित जूनियर इंजीनियर तारकेश्वर कुमार को कहलगांव, पेसू वेस्ट में एटीएफ के पद पर पदस्थापित राजीव रंजन को एकंगर सराय, पेसू आशियाना में सहायक विद्युत अभियंता के पद पर पदस्थापित चंदन कुमार को पुनपुन स्थानांतरित किया गया है। साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी ने 17, नॉर्थ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी ने 17 और बिहार स्टेट पावर ट्रांसमिशन कंपनी ने 4 कर्मियों का स्थानांतरण किया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *