नीतीश बोले-सुशील मोदी के बारे में हमसे नहीं, बीजेपी से पूछिये, समारोह में खामोश रहे सुमो

PATNA : उप मुख्यमंत्री पद से बेदखल कर दिये गये सुशील मोदी आज राजभवन में शपथ ग्रहण समारोह में पूरी तरह अलग थलग नजर आये. पत्रकारों ने उन्हें बहुत कुरेदा लेकिन सुशील मोदी कुछ नहीं बोले. पत्रकारों ने नीतीश कुमार से सवाल पूछा, मुख्यमंत्री बोले-ये बीजेपी से पूछिये. सुशील मोदी आज शपथ ग्रहण समारोह में पिछली कतार में बैठे. उनका नाम पहली कतार वाले नेताओं में शामिल नहीं था. पहली कतार में अमित शाह और जेपी नड्डा जैसे नेता बैठे थे. सुशील मोदी इससे पहले एयरपोर्ट पर अमित शाह और जेपी नड्डा को रिसीव करने गये थे. वहां से राजभवन पहुंचे तो दूसरी कतार में जा बैठे. पिछले 15 सालों से राजभवन में होने वाले हर समारोह में सुशील मोदी को अगली पंक्ति की कुर्सी मिलती थी. चाहे वो उप मुख्यमंत्री हों या फिर विधान परिषद में विपक्ष के नेता.

हालांकि इसी बीच नये डिप्टी सीएम बनाये गये तारकिशोर प्रसाद राजभवन पहुंचे तो सुशील मोदी ने उन्हें गले से लगाया. तारकिशोर प्रसाद लंबे समय से सुशील मोदी के साथ काम करते रहे हैं. विद्यार्थी परिषद से लेकर बीजेपी तक तारकिशोर प्रसाद सुशील मोदी खेमे के ही आदमी माने जाते रहे हैं. शपथ ग्रहण के बाद सुशील मोदी अलग थलग खड़े थे. नीतीश कुमार ने उन्हें अपने पास बुलाया. दो-तीन मिनट के लिए दोनों साथ रहे. फिर नीतीश आगे निकल गये. पत्रकारों ने नीतीश से पूछा कि उनकी और सुशील मोदी की जोड़ी क्यों टूट गयी. नीतीश बोले ये बीजेपी से पूछिये और फिर दूसरे सवालों से बचकर वे निकल गये. राजभवन में शपथ ग्रहण के दौरान अलग अलग मीडिया संस्थानों के पत्रकार सुशील मोदी के पास पहुंचे. तमाम लोगों ने सुशील मोदी से बात करने की कोशिश की लेकिन वे कुछ नहीं बोले. पत्रकारों ने कहा-हमलोगों से क्यों नाराज हैं कुछ तो बोलिये. सुशील मोदी फिर भी कुछ नहीं बोले. शपथ ग्रहण के बाद पत्रकारों के सवालों को अनसुना कर सुशील मोदी राजभवन से निकल गये.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *