अभी-अभी : राष्ट्रपति चुनाव को लेकर CM नीतीश का बड़ा ऐलान, द्रौपदी मुर्मू को दिया समर्थन

CM नीतीश ने राष्ट्रपति के लिये द्रौपदी मुर्मू की उम्मीदवारी का समर्थन किया, PM को थैंक्स बोला : श्रीमती द्रौपदी मुर्मू जी को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया जाना खुशी की बात है। श्रीमती द्रौपदी मुर्मू जी एक आदिवासी महिला हैं। एक आदिवासी महिला को देश के सर्वोच्च पद के लिए उम्मीदवार बनाया जाना अत्यंत प्रसन्नता की बात है। श्रीमती द्रौपदी मुर्मू उड़ीसा सरकार में मंत्री तथा इसके पश्चात् झारखण्ड की राज्यपाल भी रह चुकीं हैं। कल प्रधानमंत्री जी ने बात कर इसकी जानकारी दी थी कि श्रीमती द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया जा रहा है। प्रधानमंत्री जी को भी इसके लिए हृदय से धन्यवाद।

जनता दल यूनाइटेड ने भाजपा की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का समर्थन किया है। पार्टी अध्यक्ष ललन सिंह के बाद अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी उनकी उम्मीदवारी पर खुशी जताई है। उन्होंने पीएम मोदी को धन्यवाद भी दिया।

सीएम नीतीश कुमार ने राष्ट्रपति पद के लिए द्रौपदी मुर्मू के नामांकन पर ट्वीट किया और लिखा- श्रीमती द्रौपदी मुर्मू जी को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया जाना खुशी की बात है। श्रीमती द्रौपदी मुर्मू जी एक आदिवासी महिला हैं। एक आदिवासी महिला को देश के सर्वोच्च पद के लिए उम्मीदवार बनाया जाना अत्यंत प्रसन्नता की बात है।

श्रीमती द्रौपदी मुर्मू उड़ीसा सरकार में मंत्री तथा इसके पश्चात् झारखण्ड की राज्यपाल भी रह चुकीं हैं। कल प्रधानमंत्री जी ने बात कर इसकी जानकारी दी थी कि श्रीमती द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया जा रहा है। प्रधानमंत्री जी को भी इसके लिए हृदय से धन्यवाद।
इससे पहले ललन सिंह ने समर्थन का ऐलान किया था। उनका कहना है कि एक गरीब परिवार में जन्म लेने वाली आदिवासी महिला श्रीमती द्रौपदी मुर्मू राष्ट्रपति चुनाव की उम्मीदवार हैं। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सैद्धांतिक रूप से महिला सशक्तिकरण और समाज के उत्पीड़ित वर्गों के प्रति समर्पित रहे हैं। जनता दल (यू) श्रीमती द्रौपदी मुर्मू जी की उम्मीदवारी का स्वागत और समर्थन करता है। राष्ट्रपति चुनाव के लिए मनोनीत होने पर मेरी हार्दिक बधाई।
हालांकि ऐसा पहली बार होगा जब नीतीश कुमार अपने गठबंधन उम्मीदवार का समर्थन करेंगे।
जब नीतीश कुमार एनडीए के साथ थे तो उन्होंने कांग्रेस उम्मीदवार प्रणब मुखर्जी का समर्थन किया था। भाजपा ने तब पीए संगमा को अपना अध्यक्ष पद का उम्मीदवार बनाया था। ऐसा ही कुछ 2017 में भी देखने को मिला था। जब नीतीश कुमार महागठबंधन के मुख्यमंत्री थे और उन्होंने बिहार के राज्यपाल रामनाथ कोविंद का समर्थन किया था।
महागठबंधन की ओर से मीरा कुमार को जहां राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया गया, वहीं जेडीयू ने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार और बिहार के तत्कालीन राज्यपाल रामनाथ कोविंद का समर्थन किया।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WhattsupYOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.