दुर्गा मंदिर में चप्पल पहन कर पहुंचे CM नीतीश कुमार, BJP नेता ने साधा निशाना

एनडीए सरकार के मुखिया नीतीश कुमार भी अनोखे किस्म के इंसान हैं। दुर्गा पूजा के समय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पटनासिटी स्थित एक दुर्गा मंदिर में बिना चप्पल उतारे प्रवेश कर गये।

हिंदुओं में यह परंपरा है कि किसी देवस्थल-मंदिर में प्रवेश करने से पहले अपने जूते-चप्पल उतार देते हैं। सवाल यह है कि यदि मां दुर्गे की पूजा-अर्चना के लिए मुख्यमंत्री गये थे तो कायदे से चप्पल तो उन्हें उतार ही देना चाहिए था। चप्पल नहीं उतार कर उन्होंने क्या खुद को धर्मनिपरेक्ष साबित करने की कोशीश की है?

बीजेपी और जदयू के बीच इन दिनों पटना में जलजमाव को लेकर पहले से ही घमासान चल रहा है। उस पर चप्पल पहन कर मंदिर में प्रवेश कर मुख्यमंत्री ने बीजेपी को हमला करने का एक और जबर्दस्त मौका दिया जिसे फौरन बीजेपी के युवा मोर्चा के एक नेता ने लपक लिया। है।

भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष संतोष रंजन राय ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की मंदिर परिसर में चप्पल पहने एक तस्वीर शेयर कर ट्वीट किया है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार या तो ये शुद्ध सेक्युलर हो गए है या भगवान से ऊपर हो गए है। उनके साथ मंदिर में बीजेपी मंत्री नंदकिशोर यादव व उनके सुरक्षाकर्मी व कार्यकर्ता भी गये थे।

तस्वीर में साफ नजर आ रहा है कि मुख्यमंत्री ने चप्पल पहन रखी है जबकि मंत्री व सुरक्षा कर्मियों सभी मां के दरबार में नंगे पांव खड़े हैं। युवा मोर्चा नेता ने जदयू प्रवक्ताओं पर तंज भी किया कि उन्हें तय कर लेना होगा वे पहले मुख्यमंत्री का तलवा चाटेंगे या फिर चप्पल।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *