पटना के लिए अच्छी खबर, पांच दिन में एक भी पॉजिटिव मरीज नहीं मिला, कुल 6 में 3 अस्पताल से डिस्चार्ज

Patna: को/रोना वा/यरस को लेकर पटना व जिले के लिए सुखद खबर है. पिछले पांच दिनों में एक भी पॉजिटिव केस नहीं मिला है. अंतिम पॉजिटिव शरणम अस्पताल की नर्स है जिसकी पॉजिटिव रिपोर्ट 28 मार्च को आई थी. पटना में 22 मार्च से लेकर 2 अप्रैल तक कुछ छह पॉजिटिव मरीज मिले. इनमें दीघा की अनिथा, सिटी के मो. फैयाज व बभनपुरा के राहुल ने कोरोना से जंग जीत ली और इन तीनों को अस्पताल से छुट्‌टी दे दी गई.

अनिथा 30 को एम्स से घर गई जबकि फैयाज व राहुल पहली अप्रैल को एनएमसीएच से घर गए. 28 को जो नर्स पॉजिटव मिली थी, उसकी एक रिपोर्ट निगेटिव आ गई है. उसका दूसरा सैंपल जांच के लिए गया हुआ है. बस इसी का इंतजार है. अगर यह भी निगेटिव आ गया है तो वह घर चली जाएगी. सबसे बड़ी बात यह है कि पटना के जो छह पॉजिटव मिले थे, उनके संपर्क में आने से अब तक उनके एक भी परिवार या पड़ोसी पॉजिटिव नहीं हुए. यह राजधानी के लिए काफी सुखद है कि संक्रमण का फैलाव की रफ्तार थमी सी है.

(प्रतीकात्मक तस्वीर)  पटना में 22 मार्च से लेकर 2 अप्रैल तक कुछ छह पॉजिटिव मरीज मिले। इनमें दीघा की अनिथा, सिटी के मो. फैयाज व बभनपुरा के राहुल ने कोरोना से जंग जीत ली और इन तीनों को अस्पताल से छुट्‌टी दे दी गई।

सीमित संसाधन में भी हमारे डॉक्टरों का कमाल
इन छह के पाॅजिटिव आने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने हरेक के मां, बाप, पति, भाई , बहन या अन्य नजदीकी रिश्तेदार या जिनसे वे मिले, उनमें एक भी केस पॉजिटिव नहीं आए. बाद दीगर है कि इन पॉजिटिव केस के घरों के तीन किलोमीटर की परिधि में बसी हजारों की आबादी का सर्वे करने में उनके पसीने छूट गए. हमारे बिहार के डॉक्टर अब तक कोरोना से लड़ने में शानदार काम कर रहे हैं. सीमित संसाधनों में उन्होंनेे बेहतर काम कर के दिखाया है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.