सरकार में एक भी मुस्लिम मंत्री नहीं, नीतीश मंत्रिमंडल ने जातिगत समीकरण में रचा इतिहास

PATNA : बिहार में इस दफे बने मंत्रिमंडल ने संभवत: इतिहास बना दिया है. नये मंत्रिमंडल में एक भी मुसलमान मंत्री नहीं है. बिहार में शायद ऐसा पहली बार हुआ है कि 15 फीसदी की आबादी वाले तबके को कोई नुमाइंदगी नहीं दी गयी. हालांकि अभी मंत्रिमंडल का विस्तार होना है लेकिन पहली बार में किसी मुस्लिम को जगह नहीं मिला है. बिहार में इस दफे चुनाव जीतने वाले एनडीए में एक और रिकार्ड बना है. एनडीए में एक भी मुसलमान विधायक चुन कर नहीं आया है. एनडीए में चार घटक दलों ने मिलकर चुनाव लड़ा था. इसमें बीजेपी के साथ साथ वीआईपी और हम पार्टी ने किसी मुसलमान उम्मीदवार को टिकट दिया ही नहीं था. लेकिन जेडीयू ने 11 मुसलमान उम्मीदवारों को चुनाव मैदान में उतारा था. जेडीयू के सारे मुसलमान उम्मीदवार चुनाव हार गये. पिछली सरकार में अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री रहे जेडीयू के खुर्शीद उर्फ फिरोज भी इस दफे चुनाव हार गये.

ऐसे में ये अनुमान लगाया जा रहा था कि नीतीश कुमार अपने मंत्रिमंडल में किसी मुस्लिम विधान पार्षद को जगह देंगे. विधान परिषद में जेडीयू के पास पर्याप्त संख्या में मुसलमान एमएलसी हैं. गुलाम रसूल बलियावी, गुलाम गौस, तनवीर अख्तर, खालिद अनवर, कमर आलम जैसे जेडीयू के एमएलसी में से किसी एक के मंत्री बनने की चर्चा कल तक थी. लेकिन आज सुबह से ही ये क्लीयर हो गया कि इनमें से किसी को मंत्री नहीं बनाया जा रहा है. वैसे, जेडीयू के एक सीनियर नेता ने कहा कि फिलहाल छोटे मंत्रिमंडल का गठन हुआ है. अभी इसका विस्तार होना बाकी है. तब जेडीयू किसी मुस्लिम नेता को मंत्री जरूर बनायेगी. जेडीयू नेता ने कहा कि ये हो ही नहीं सकता कि नीतीश कुमार अपनी सरकार में मुसलमानों को प्रतिनिधित्व नहीं दें. नीतीश कुमार के साथ आज 14 मंत्रियों ने शपथ लिया. शपथ लेने वाले मंत्रियों जदयू से 5, भाजपा से 7 और हम-वीआईपी से एक-एक मंत्री शामिल हैं. जातिगत हिसाब से देखें तो 15 सदस्यीय मंत्रिमंडल में सवर्णों से 4, दलितों से 2, अति पिछड़ा वर्ग के 3, पिछडा वर्ग से 5 मंत्री शामिल किये गये हैं. देखिये मंत्रियों का जातिगत ब्योरा.

नीतीश कुमार-मुख्यमंत्री- पिछड़े वर्ग के कुर्मी जाति से आते हैं
तारकिशोर प्रसाद-डिप्टी सीएम-पिछड़े वर्ग के कलवार जाति से आते हैं.
रेणू देवी-डिप्टी सीएम-अति पिछड़े वर्ग के नोनिया जाति से आती हैं.
विजय कुमार चौधरी-मंत्री-भूमिहार जाति से आते हैं.
विजेंद्र यादव-मंत्री-यादव जाति से आते हैं.
अशोक चौधरी-मंत्री-दलित तबके के पासी जाति से आते हैं
मेवालाल चौधरी-मंत्री-कुशवाहा जाति से आते हैं
शीला कुमारी-मंत्री-अति पिछड़े मंडल जाति से आती हैं
संतोष सुमन-मंत्री-दलितों के मुशहर जाति से आते हैं.
मुकेश सहनी-मंत्री- अति पिछड़े मल्लाह जाति से आते हैं.
मंगल पांडेय-मंत्री-ब्राह्मण जाति से आते हैं.
अमरेंद्र प्रताप सिंह-मंत्री-राजपूत जाति से आते हैं.
रामप्रीत पासवान-मंत्री-दलितों के पासवान जाति से आते हैं.
जीवेश कुमार-मंत्री-भूमिहार जाति से आते हैं.
रामसूरत राय-मंत्री-यादव जाति से आते हैं.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *