नए मोटरव्हीकल कानून का विरोध शुरू, राज्य सरकारों ने कहा- इतना जुर्माना कोई नहीं दे पाएगा

पटना : नए मोटरव्हीकल कानून को लेकर विरोध शुरू हो गया है। देश भर में रविवार से लागू होने वाले इस नए कानून को विपक्षी पार्टी की सरकार अपने-अपने राज्यों में लागू नहीं करेगी। जी हां, मध्य प्रदेश और टीएमसी शासित पश्चिम बंगाल सरकार अपने यहां इस कानून लागू करने से इंकार कर चुकी है। वहीं, राजस्थान सरकार ने कहा कि वह पहले जुर्माने की रकम पर विचार करेगी, उसके बाद कानून को लागू करेगी। राजस्थान के परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खचरियावास ने कहा है कि उनकी सरकार कानून में संशोधनों को लागू तो करेगी, लेकिन जुर्माने की रकम को रिव्यू करने के बाद। इंडिया टुडे की खबरों के मुताबिक उन्होंने कहा कि ‘देखिए, सेंट्रल मोटर व्हीकल एक्ट पूरे देश में एक तारीख से लागू हुआ है, जिससे यह राजस्थान में भी लागू हो चुका है।

एमपी और बंगाल ने कानून को नकारा : मध्यप्रदेश के कानून मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि मैंने सुबह में कानून सचिव से बात की है और मुख्यमंत्री कमलनाथ से भी बात करूंगा कि इस कानून को लागू करने से पहले इसमें कुछ संशोधन किया जाना चाहिए। फिलहाल, जुर्माना बहुत ज्यादा है और हर कोई उसे नहीं चुका सकता। पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार ने कह दिया कि वह नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू नहीं करेगी, जो रविवार से पूरे देश में लागू हो चुका है। ममता सरकार की दलील भी वही है कि जुर्माने की रकम बहुत ज्यादा है और वह ड्राइवरों की गलतियों के खिलाफ भी सख्त प्रावधानों के खिलाफ है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *