आजादी ​के बाद पहली बार अनाज पर टैक्स, दही 7, घी 60 RS किलो महंगा, लोग बोले— कोई दिक्कत नहीं है

{जीएसटी में बढ़ोतरी को 18 जुलाई से ही लागू किया गया : आजाद भारत में पहली बार पैकेट बंद आटा, चावल जैसे अनाज पर टैक्स लगाया गया है। वहीं, जीएसटी में 5 प्रतिशत वृद्धि के कारण सुधा की दही, लस्सी, घी सहित अन्य उत्पादों के दाम भी बढ़ गए। प्रति किलो घी 60 रुपया महंगा हुअा है। अब आधा किलो घी के पाउच की कीमत 250 की जगह 280 रुपए लगेंगे। एक किलो दही पाउच के लिए 65 के बदले 72 रुपये देने होंगे। 150 एमएल लस्सी 10 के बदले 12 रुपए में मिलेंगे। लेकिन, 180 एमएल लस्सी की कीमत 15 रुपए ही हैं। इसमें वृद्धि नहीं हुई है।

कॉम्फेड ने सोमवार को कीमत बढ़ोतरी की जानकारी दी। कॉम्फेड के अनुसार भारत सरकार द्वारा पैक्ड दही, पैक्ड लस्सी और पैक्ड मट्ठा पर 5 प्रतिशत जीएसटी वृद्धि के कारण दाम बढ़े हैं। यह वृद्धि 18 जुलाई से ही लागू हुई। दही, लस्सी एवं मट्ठा की कीमत पिछले साल फरवरी 2021 में बढ़ाए गए थे। इसके पहले कॉम्फेड ने दूध के दाम दो बार बढ़ाए थे। कॉम्फेड ने कहा कि सुधा घी एवं टेबल बटर का मूल्य 22 जुलाई से बढ़ेगा।

किचेन का बजट बढ़ेगा, 1 सप्ताह में दिखेगा पूरा असर
जीएसटी परिषद द्वारा रोजमर्रा की चीजों पर जीएसटी बढ़ाए जाने के बाद किचेन का बजट अब बढ़ जाएगा। सोमवार से यह लागू हो गया। लेकिन पटना में बढ़ी कीमतें करीब एक हफ्ते बाद असर दिखाएंगी। क्याेंकि ज्यादातर दुकानों में पहले का माल अभी उपलब्ध है। नया माल आने के बाद नई कीमत लागू होगी। 5,000 रुपए से अधिक किराए वाले अस्पताल के कमरों पर भी जीएसटी देना होगा। साथ ही 1,000 रुपये प्रतिदिन से कम किराए वाले होटल कमरों पर 12 प्रतिशत की दर से कर लगाने की बात है। अभी इसपर कोई कर नहीं लगता था। बैंक की तरफ से चेक जारी करने पर 18 प्रतिशत और एटलस समेत नक्शे और चार्ट पर 12 प्रतिशत जीएसटी लगेगा।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WhattsupYOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.