पाकिस्तान को मिलेगा आखिरी मौका,आतंक के खिलाफ कार्रवाई में नाकाम होने पर होगी इकॉनमी ब्लैकलिस्ट

PATNA: पाकिस्तान को एक फाइनैंशल ऐक्शन टास्क फोर्स ने आखिरी चेतावनी दी है। पाकिस्तान अगर आतंक के खिलाफ कार्रवाई करने में नाकाम रहा तो ब्लैकलिस्ट किया जा सकता है। इसका सीधा असर पाक की इकॉनमी में पड़ेगा।

एफएटीएफ की ओर से जारी की गई यह चेतावनी पाकिस्तान के लिए खतरे की घंटी है। अगर एफएटीएफ इस्लामाबाद को ब्लैकलिस्ट करता है तो इसका सीधा असर होगा कि वैश्विक दुनिया में पाक पूरी तरह से अलग-थलग हो जाएगा। इसका असर पाक को आईएमएफ और वर्ल्ड बैंक से मिलनेवाली सहायता पर भी पड़ सकता है।

बता दें कि पाकिस्तान को आतंक के खिलाफ पर्याप्त कार्रवाई नहीं होने के आधार पर ग्रे लिस्ट में रखा गया है। एफएटीएफ ने पाक को अक्टूबर तक का टाइम दिया है। पाक अब सीधे ग्रे लिस्ट से ब्लैकलिस्ट में आ सकता है। आतंक के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए पाक के पास अब आखिरी मौका है।

भारत के द्वारा लाए गए इस प्रस्ताव को अमेरिका और ब्रिटेन ने भी अपना समर्थन दिया। भारत एफएटीएफ की एशिया-पैसेफिक जॉइंट ग्रुप का को-चेयर सदस्य है। एफएटीएफ के निर्देशों के अनुसार पाकिस्तान की आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई और मनी लॉन्ड्रिंग रोकने के लिए उठाए कदमों की समीक्षा भारत भी करता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *