बिहार पंचायत चुनाव में वोटर बनने का आज है अंतिम डेट, हरेक स्कूल पर लगा है नाम जोड़ने का कैंप

वोटर लिस्‍ट में आपका नाम-पता दुरुस्‍त है या नहीं, गड़बड़ी है तो 10 जनवरी के विशेष शिविर में करवा लें सुधार : मतदाता सूची (Voters List) की त्रुटियों को दूर करने के लिए 10 जनवरी को सभी बूथों पर विशेष शिविर लगाया जाएगा। इसमें नाम, पता आदि में सुधार समेत 18 वर्ष की उम्र पूर्ण करने वाले युवक-युवतियों का नाम भी सूची में जोड़ा जाएगा। इसको लेकर प्रशासनिक तैयारी तेज हो गई है।

जिला प्रशासन ने पंचायत चुनाव की प्रशासनिक तैयारी शुरू कर दी है। इसके तहत मतदाता सूची और मतदान केंद्रों को सुदृढ़ किया जा रहा है। पटना जिले में लगभग 47 लाख मतदाता हैं जो अगले पंचायत चुनाव में भाग ले सकते हैं। हालांकि मतदाता सूची में नाम जोड़ने और हटाने का काम 11 जनवरी तक चलेगा। अधिकारियों का कहना है कि मतदाता सूची में कुछ मतदाताओं की संख्या बढ़ सकती है। जो मतदाता बिहार विधानसभा चुनाव के लिए तैयार किए जा रहे मतदाता सूची में अपना नाम जुड़वाना चाहते हैं, वे 11 जनवरी के पहले आवेदन कर सकते हैं। इसी के आधार पर चुनाव होगा। पटना जिले में 4654 मतदान केंद्र बनाए गए हैं।

जिला पंचायत राज पदाधिकारी सुषमा कुमारी ने बताया कि पंचायत चुनाव को देखते हुए सभी तैयारी शुरू कर दी गई है। राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जो सुझाव मांगा गया था उसे भी भेज दिया गया है। समय रहते मतदाता सूची को अपडेट कर लिया जाएगा। सभी मतदान केंद्रों पर बीएलओ को निर्देश दिया गया है कि जो भी त्रुटि है, उसे दूर करने से संबंधित अपना प्रतिवेदन दे दें।

9 चरणों में चुनाव कराने का प्रस्ताव
राज्य निर्वाचन आयोग ने जिला प्रशासन से सुझाव मांगा था कि पटना जिले में कितने चरणों में पंचायत चुनाव हो सकता है। जिला प्रशासन की ओर से राज्य निर्वाचन आयोग को सुझाव दिया गया है कि बैलेट पेपर से चुनाव होने पर 9 चरणों में मतदान करने की आवश्यकता पड़ेगी लेकिन यदि पंचायत चुनाव में भी ईवीएम का इस्तेमाल किया जाएगा तो ऐसी स्थिति में एक दिन में ही मतदान संपन्न हो जाएगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *