रामविलास की पहली बरसी पर अपने गांव पहुंचे चिराग, बड़की मां राजकुमारी देवी से लिपटकर खूब रोये

पैतृक गांव पहुंचे चिराग, पिता की पहली बरसी गांववालों के साथ मनाई- बड़ी मां से लिपटकर खूब रोये : लोक जनशक्ति पार्टी के उत्तराधिकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष और जमुई सांसद चिराग पासवान बुधवार को अपने पैतृक गांव पहुंचे और गांव जवार को बुलाकर पिता की पहली बरसी पर भोज खिलाया। उन्होंने अपने प्रियजनों, परिवारीजनों और हित कुटुम्ब के साथ बरसी को संपन्न किया। उनका पैतृक गांव खगड़िया के शाहरबानी में है, जहां उनकी एक झलक पाने के लिये लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा।

गांव जवार का बच्चा बच्चा उनसे मिलने पहुंच गये। लोगों ने उन पर खूब प्यार लुटाया। जब वे अपने घर पहुंचे तो बड़ी मां के गले से लिपटकर खूब रोये और मां ने भी उनका ढांढस बंधाया। इस दौरान सामने आई तस्वीरों ने लोगों को भावुक कर दिया है। चिराग की बड़ी मां राजकुमारी देवी ने चिराग को गले लगाकर आशीर्वाद दिया।

पैतृक गांव पहुंचे चिराग पासवान ने अपने पिता स्वर्गीय रामविलास पासवान की तस्वीर पर फूल चढ़ाकर श्रद्धांजलि दी। उसके बाद बड़ी मां राजकुमार देवी का आशीर्वाद लेने गये। बड़ी माँ ने चिराग को सीने से लगाकर खूब प्यार किया। वहां मौजूद सभी लोगों के लिये यह बेहद भावुक क्षण था। सभी लोग भावुक हो गये।
गांव में इस दौरान चिराग पासवान ने दलित सेना के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष व समस्तीपुर लोकसभा के पूर्व सांसद स्व. रामचंद्र पासवान के तैलचित्र पर भी पुष्पांजलि अर्पित की और अपने दादाजी स्व. जामुन दास जी एवं दादीजी स्व. सिया देवी जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WHATTSUP, YOUTUBE पर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.