मेरे बैग में बम है, मुझे प्लेन से उतारो, नहीं तो विमान उड़ा देंगे, पटना एयरपोर्ट पर हड़कंप

दिल्ली जा रहे विमान में अफवाह… युवक बोला-मेरे झोले में बम; रोकी गई उड़ान, यात्रियों को उतार देर रात तक जांच, बम के दावे के बाद एयरपोर्ट पर खड़ा विमान। विमान रद्द होने के बाद हंगामा करते यात्री। पिता से झगड़ने के बाद युवक ने फैलाई अफवाह, फ्लाइट कैंसिल, यात्रियों का हंगामा : इंडिगाे की दिल्ली जाने वाली फ्लाइट 6ई6126 पटना से रात करीब सवा 10 बजे टेकऑफ करने वाली थी। इसी बीच विमान में बैठे एक युवक ने पिता से विवाद होने के बाद कहा-मेरे झोले में बम है, विमान उड़ा देंगे। 30 वर्षीय युवक का नाम ऋषि चंद्र है और उसे मानसिक रूप से बीमार बताया जा रहा है। अपने पिता गुरप्रीत सिंह और मां के साथ दिल्ली जा रहा था।

बम होने की सूचना मिलने के बाद दिल्ली जा रहे करीब 134 यात्रियाें से लेकर पायलट और क्रू मेंबर में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में एटीसी और सीआईएसएफ की सूचना दी गई। विमान में सवार सभी यात्रियाें काे उतारा गया। इसी बीच फ्लाइबिग की गुवाहाटी फ्लाइट ने लैंड किया। उसे पार्किंग एरिया में नहीं लाया गया। इंडिगाे की फ्लाइट काे हटाने के बाद फ्लाइबिग की फ्लाइट काे पार्किंग एरिया में लाया गया। सूचना मिलने के बाद बम निरोधी दस्ता एयरपाेर्ट पर पहुंचा तलाशी लेनी शुरू कर दी। रात 1:20 बजे एटीएस ने जांच पूरी की। कहा-बम नहीं मिला। इससे पहले रात 1:00 बजे फ्लाइट को कैंसिल कर दिया गया। इससे नाराज यात्रियों ने हंगामा किया।

अफवाह फैलाने वाला युवक मानसिक रोगी | तलाशी में बम निरोधी दस्ता के कमांडो, श्वान दस्ता, डॉग स्क्वायड के साथ जिला प्रशासन का बम निरोधी दस्ता,सीआईएसएफ टीम शामिल थे। युवक और उसके पिता को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। डीएम चंद्रशेखर सिंह का बताया कि युवक की मानसिक स्थिति खराब थी, उसी ने अफवाह फैला दी थी। युवक हाजीपुर में किसी कंपनी में कार्यरत है। जबकि उसका पिता रिटायर्ड फौजी है। विमान रद्द होने से यात्री परेशान रहे। संदीप जैन, राजीव मारवा और डॉक्टर कृष्णा कुमार ने बताया कि हमलोगों को घंटों खड़ा रखा गया। कुछ खाने को भी नहीं दिया। ठहरने के लिए अब होटल का भी इंतजाम नहीं है। इतनी रात को कहां जाएं।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WhattsupYOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.