बिहार में बंदर ने एक घंटे तक रोके रखी राजधानी एक्सप्रेस, लोकमान्य तिलक को भी करना पड़ा इंतजार

Desk: बिहार के बक्सर में बंदर के उत्पात से करीब एक घंटे तक राजधानी एक्सप्रेस को रोकना पड़ा। चौसा बक्सर रेलखंड के पावनी कमरपुर हाल्ट स्थित ठोरा नदी पुल के समीप गुरुवार की सुबह करीब 09.30 बजे ओवरहेड तार पर बंदर कूद गया। इस कारण तार में विद्युत प्रवाह बंद हो गया, इससे डाउन रेल लाइन पर ट्रेनों का परिचालन बाधित हो गया। इससे राजधानी एक्सप्रेस को करीब एक घंटे तक चौसा रेलवे स्टेशन पर रोका गया।

इसके अतिरिक्त रक्सौल लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस को भी लगभग 20 मिनट के लिए चौसा रेलवे स्टेशन पर रोका गया। घटना के बाद रेलवे स्टेशन प्रबंधक ने तत्काल सूचना टीआरडी मनोज कुमार को दी। तकनीकी कर्मियों को भेजकर खराबी को दुरुस्त कराया गया। लगभग एक घण्टे की मशक्कत के बाद 10:30 बजे के करीब खराबी को दुरुस्त कर राजधानी एक्सप्रेस को पहले आगे की ओर रवाना कर दिया गया। इसके बाद फिर 11:00 बजे के करीब परिचालन को सुचारु हुआ।

घटना के सम्बन्ध में पीआरडी मनोज कुमार ने बताया कि बंदर के ओवरहेड तार पर कूदने के कारण हुई इस खराबी को दुरुस्त करने में तकरीबन एक घंटे का समय लग गया। डाउन लाइन के पोल संख्या 663 के समीप पवनी कमरपुर हाल्ट व बक्सर के बीच ठोरा नदी पुल के आसपास यह घटना हुई थी। घटना की जानकारी मिलते ही एहतियात के तौर पर 02310 डाउन राजधानी एक्सप्रेस को चौसा रेलवे स्टेशन पर एक घंटे के लिए रोका गया था। इसके अतिरिक्त लोकमान्य तिलक-टर्मिनल रक्सौल एक्सप्रेस को भी तकरीबन 20 मिनट तक रेलवे स्टेशन पर रुकना पड़ा था। हालांकि, परिचालन सामान्य हो गया है।

यात्रियों में अफरा-तफरी

एक घंटे तक चौसा रेलवे स्टेशन पर ट्रेन को रोके जाने के कारण राजधानी एक्सप्रेस के यात्रियों के बीच अफरा-तफरी का माहौल बना रहा। रेल यात्री यह जानने के लिए परेशान थे कि आखिर गाड़ी क्यों रोकी गई है? बाद में चालक ने यात्रियों को आश्वस्त करते बताया कि सप्लाई लाइन में आई तकनीकी खराबी के कारण गाड़ी को रोकना पड़ा है, तब जाकर यात्रियों ने चैन की सांस ली। हालांकि, सप्लाई लाइन को दुबारा सही करने में लगे समय के कारण एक घंटे इंतजार के बाद ही उन्हें आगे रवाना होने का मौका मिला।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *