लैंड रजिस्ट्री हुआ महंगा, पटना में डबल रेट पर होगी जमीन की खरीद—बिक्री, सरकारी आदेश जारी

सूबे की जमीन महंगी होगी। 5 साल बाद जमीन के बाजार मूल्य के अाधार पर सर्किल दर तय होगा। सर्वे शुरू हो गया है। पटना के सभी 7 निबंधन कार्यालय के द्वारा टीम गठित की गई है। इसमें पटना सदर, पटना सिटी, दानापुर, बाढ़, बिक्रम, मसौढ़ी, फुलवारी शामिल है।शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्र में 30 से 50 फीसदी तक बढ़ोतरी की तैयारी है। ऐसे ही सर्वे और तैयारी पूरे राज्य भर में की जा रही है।कारण, सर्किल दर से दुगने कीमत पर जमीन की खरीद-बिक्री हो रही है। इसका सीधा प्रभाव राजस्व की हानि है। इसके साथ ही खरीद-बिक्री करने वाले लोग एक दूसरे को नगद में लेन-देन कर रहे हैं। इस पर रोक लगेगा।

डाकबंगला इलाके की सर्किल दर 2 करोड़ रुपए हो सकती है : अभी डाकबंगला का सर्किल दर 1.20 लाख रु. प्रति कट्ठा है। यह 1.80 लाख से 2 करोड़ के बीच हो जाएगा। इसी तरह अन्य प्रमुख सड़कों के किनारे सर्किल दर 50% तक बढ़ सकती है।

31 मार्च तक सर्वे रिपोर्ट तैयार होगी, अप्रैल महीने में लागू होने की संभावना : पटना जिला प्रशासन के मुताबिक 31 मार्च तक सर्वे हो जाएगा। इसके बाद मूल्यांकन समिति रिपोर्ट तैयार करेगी। फिर सरकार के पास प्रस्ताव भेजा जाएगा। नोटिफिकेशन जारी होने के बाद दर में बदलाव होगा। इस कार्य को अप्रैल तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।

मूल्यांकन समिति लेगी अंतिम निर्णय : अंतिम निर्णय जिला मूल्यांकन समिति लेगी। इसके लिए डीएम की अध्यक्षता में समिति का गठन किया गया है। नए सर्किल दर के बाद जमीन की खरीद-बिक्री पर शहरी क्षेत्र में 10% और ग्रामीण क्षेत्र में 8% रजिस्ट्री शुल्क देना होगा। शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में भी 30 से 50% तक सर्किल रेट बढ़ाने की तैयारी , नए नगर निकाय क्षेत्रों में 2% बढ़ा रजिस्ट्री शुल्क

अगर आप हमारी आर्थिक मदद करना चाहते हैं तो आप हमें 8292560971 पर गुगल पे या पेटीएम कर सकते हैं…. डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *