नगर आयुक्त का तुगलकी फरमान, कहा- नगर निगम के कर्मचारी छठ पूजा नहीं कर सकते, आदेश जारी

पटना के नगर आयुक्त का फरमान- नगर निगम में काम करने वाला छठव्रत नहीं करेगा, तमाम छठव्रतियों की छुट्टी रद्द कर ड्यूटी लगायी

PATNA: हिन्दुओं के सबसे बड़े पर्व छठ के मौके पर पटना नगर निगम के आयुक्त ने सारी हदें पार कर दी है. पटना के नगर आयुक्त ने छठ करने वाले व्रतियों की छुट्टी रद्द करते हुए उनकी ड्यूटी लगा दी है. आस्था के इस महापर्व के साथ नगर आयुक्त के खिलवाड़ से छठव्रती त्रस्त हैं. उन्हें कहा ये गया है कि उपर के आदेश पर सारी छुट्टियां रद्द कर दी गयी हैं.

दरअसल छठ के मौके पर कई विभागों में छुट्टियों पर रोक लगी होती है. लेकिन खुद छठ करने वालों को छुट्टी मिलती रही है. बिहार पुलिस में भी उनकी छुट्टी स्वीकृत की गयी है जो खुद छठ कर रहे हैं. लेकिन पटना नगर निगम में इस दफे छठ करने वालों के साथ तमाम संवेदनहीनता की तमाम हदें पार कर दी गयी हैं. नगर आयुक्त ने छठव्रतियों के छुट्टी के तमाम आवेदन को रद्द कर उनकी ड्यूटी लगा दी है. ड्यूटी पर मौजूद न रहने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की चेतावनी भी दी गयी है.

खुद छठ व्रत करने वाले नगर निगम के कई कर्मचारियों ने बताया कि उन्हें ये कहा जा रहा है कि सारी छुट्टी रद्द करने का आदेश उपर से आया है. हालांकि ये नहीं बताया जा रहा है कि उपर से आदेश देने वाला कौन है. लेकिन उपर के हवाले से छठव्रतियों को बाध्य जरूर किया जा रहा है कि वे व्रत नहीं कर पायें. हमने इस बाबत नगर आयुक्त से बात करने की कोशिश की, उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया. हमने उन्हें मैसेज भी की लेकिन उसका भी जवाब नहीं आया है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *