अभी-अभी : शराब पीते पकड़े गए तो बिहार में कभी नहीं कर पाओगे सरकारी नौकरी, नीतीश का ऐलान

बिहार में शराब को हाथ लगाया तो आजीवन सरकारी और निजी नौकरी का रास्ता बंद करा देगी नीतीश सरकार : शराबबंदी कानून को बिहार में पूर्ण रूपेण सफल बनाने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अब एक ऐसा पेंच फंसाया जिसके बाद अगर कोई युवा शराब के नशे में पकड़ा जाता है तो वह आजीवन न तो सरकारी और ना ही निजी नौकरी कर पाएगा. यह घोषणा खुद बिहार के डीजीपी ने की है.

गोपालगंज में नीतीश कुमार के समाज सुधार अभियान में शामिल डीजीपी एसके सिंघल ने शुक्रवार को चेतावनी देते हुए कहा कि बिहार में शराबबंदी कानून को लागू करने ले लिए पुलिस पूरी तरह प्रतिबद्ध है. इसे प्रभावी तरीके से लागू करने के लिए पुलिस ने एक बड़ा निर्णय लिया है. अगर कोई युवा शराब के किसी भी मामले में संलिप्त पाया जाता है तो वह किसी प्रकार की नौकरी करने लायक नहीं रह जाएगा.

उन्होंने कहा कि अगर कोई व्यक्ति शराब की खरीद-फरोख्त, शराब की तस्करी, शराब पीने या इस प्रकार के किसी मामले में संलिप्त मिलता है तो उस व्यक्ति को पुलिस की ओर से चरित्र प्रमाण पत्र जारी नहीं होगा. चरित्र प्रमाण पत्र जारी नहीं होने से वह व्यक्ति न तो सरकारी और ना ही प्राइवेट नौकरी कर पाएगा. उन्होंने खासकर युवाओं से अपील की कि वे शराब जनित किसी प्रकार के अपराध में खुद को शामिल न करें. अगर वे ऐसा करते हैं तो उनके खिलाफ न सिर्फ तय कानूनों के तहत कार्रवाई होगी बल्कि वे भविष्य में किसी प्रकार की नौकरी करने लायक नहीं रह जाएंगे.

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WHATTSUP, YOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.