इस स्कूल में पढ़ती थी लालू की पत्नी और बिहार की पूर्व CM राबड़ी देवी, बच्चों ने क्लास रूम में किया स्वागत

मायके पहुंचते ही पति लालू प्रसाद के साथ अपने स्कूल गईं राबड़ी देवी, बताई महज 5वीं तक पढाई की वजह : बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव और उनकी पत्नी आज गोपालगंज यात्रा के तहत अपने पुश्तैनी गांव पहुंचे. गांव में लालू परिवार का जमकर स्वागत किया गया. इसके बाद लालू प्रसाद यादव अपनी पत्नी राबड़ी देवी और बेटे तेजप्रताप यादव के साथ अपने ससुराल पहुंचे. इस दौरान राबड़ी देवी उस स्कूल में गई जहां वे बचपन में पढ़ाई किया करती थी. बाद में बच्चों के साथ क्लास रूम में बात करते हुए राबड़ी देवी ने बताया कि वे मात्र कक्षा 5 तक पढ़ाई कर पाई थी. गांव में स्कूल नहीं होने के कारण उनको बीच में ही पठन-पाठन छोड़ना पड़ा.

न्यूज़ एटिन बिहार की खबर के अनुसार जिस स्कूल में राबड़ी देवी ने बचपन की पढ़ाई-लिखाई की, उसी स्कूल में राबड़ी देवी पहुंची और छात्राओं से बातचीत करते हुए शिक्षिका की भूमिका में नजर आईं. राबड़ी देवी ने भावुक होकर कहा कि जब हमारा बचपन था तब गांव में स्कूल पांचवीं कक्षा तक हीं थीं. बेटियों को लोग स्कूल में पढ़ने के लिए नहीं भेजते थें. राबड़ी देवी ने कहा कि मेरी पढ़ाई पांचवीं तक हुई. आगे की कक्षा के स्कूल गांव में नहीं थे. राबड़ी देवी ने कहा कि जब बिहार की सीएम बनी तो सेलार कला में राबड़ी देवी बालिका प्लस-टू स्कूल का निर्माण करवाया.

आज बेटियों को प्लस-टू स्कूल में पढ़ते देख खुशी हो रही है. राबड़ी देवी के साथ राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद और उनके बड़े बेटे मंत्री तेजप्रताप यादव भी थे. राबड़ी देवी ने कहा कि छात्राओं ने उर्दू और संस्कृत विषय के शिक्षकों की डिमांड की है. इसके लिए शिक्षा विभाग को निर्देश दिया जाएगा, साथ ही दो अतिरिक्त कमरा और कंप्यूटर क्लास भी बनवाया जाएगा. राबड़ी देवी के क्लास साथी सेलार कला के रहने वाले मंसूर अली ने कहा कि बचपन से राबड़ी देवी मिलनसार थीं. वो सभी को साथ लेकर चलती थी. आज अपने घर उनको देखकर खुशी की अनुभूति महसूस हो रही है. इससे पहले लालू प्रसाद और राबड़ी देवी का छात्राओं ने स्वागत गान प्रस्तुत कर उनका स्वागत किया.

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WHATTSUP, YOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *