अनंत सिंह की तलाश में झारखंड में छापा, कोर्ट में सरेंडर करने का किया ऐलान

विधायक अनंत सिंह पर शिकंजा कसता जा रहा है। उनकी गिरफ्तारी के लिए एसआईटी का गठन कर दिया गया है। सूत्रों की मानें तो एसआईटी ने रविवार को विधायक की गिरफ्तारी के लिए झारखंड के हजारीबाग के बरही में छापेमारी भी की।

विधायक के कोर्ट में सरेंडर करने के भी कयास लगाए जा रहे हैं। इससे पहले एके-47 व दो ग्रेनेड बरामदगी के मामले में पुलिस ने विधायक के माल रोड स्थित आवास पर शनिवार रात छापेमारी की। तीन घंटे से अधिक चली छापेमारी में विधायक नहीं मिले। वहां से पुलिस ने बाढ़ में फायरिंग करने के आरोपित छोटन सिंह को गिरफ्तार कर लिया। मौके से एक तलवार और विधायक के सरकारी मोबाइल को जब्त कर लिया। इसके साथ ही छोटन सिंह को पनाह देने के आरोप में अनंत सिंह और पहचान छुपाने के आरोप में पत्नी नीलम देवी पर सचिवालय थाने में केस दर्ज किया गया है। सिटी एसपी विनय तिवारी ने बताया कि पत्नी को थाने से बेल दे दिया गया है।

कैमरे के सामने बोले अनंत सिंह- हम भागे नहीं, बी’मार दोस्त को देखने आए हैं : बिहार (Bihar) के मोकामा (Mokama) विधानसभा सीट से विधायक बाहुबली अनंत सिंह (Anant Singh) अपने घर से फरार होने के बाद पहली बार कैमरे के सामने आए हैं। अनंत सिंह ने अपना वीडियो भेजकर सफाई दी है। वीडियो में अनंत सिंह कह रहे हैं कि, ‘हम भागे नहीं हैं। अपने बीमार दोस्त को देखने आए हैं। 3-4 दिन में सरेंडर कर देंगे। अनंत सिंह ने कहा सरेंडर से पहले मैं फ्लैट पर जाऊंगा। मीडिया से बात करने के बाद सरेंडर कर दूंगा।’

विधायक के पैतृक गांव लदमा से एके-47 रायफल (AK-47) और हैंड ग्रेनेड (Hand Grenade) की बरामदगी के बाद बिहार के बाहुबली अनंत सिंह और पत्नी नीलम देवी पर केस दर्ज कर लिया गया है। अनंत सिंह और नीलम देवी पर भारतीय दंड विधान की धारा 212 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। बाढ़ एसएचओ के बयान के आधार पर सचिवालय थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है। छोटन सिंह को घर में पनाह देने के मामले में यह एफआईआर दर्ज की गई है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *