रविशंकर को दें बिहार- नीतीश को सीएम बनाने के खिलाफ आवाज उठा रहे भाजपाई!

बिहार चुनाव में एनडीए की घटक दल जेडीयू की कम सीटें आने पर राज्य में भाजपा का सीएम बनाए जाने की मांग उठने लगी है। पार्टी कार्यकर्ताओं की मांग है कि बिहार की कमान अब केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद को सौंपी जाए। इसके लिए पंफलेट्स भी छपवाए गए हैं जिन्हे सोशल मीडिया में वायरल किया जा रहा है। ऐसा ही एक पंफलेट एनडीटीवी के पत्रकार उमाशंकर सिंह ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है।

इसमें लिखा गया, ‘मेरी सोच, मेरा विचार…आप भी सोचें और विचार करें विचार।’ पंफलेट में लिखा गया कि मोदी से पुकार है कि रविशंकर प्रसाद को बिहार की कमान सौंपी जाए। इसमें केंद्रीय मंत्री को लोकप्रिय नेता बताते हुए कहा गया कि वो कर्मठ हैं और अनुभव से भरपूर हैं। पंफलेट की फोटो को सोशल मीडिया में वायरल करने की अपील भी की गई है।

बिहार विधानसभा में एनडीए में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। भगवा दल को 74 सीटों पर विजय प्राप्त हुई है जबकि नीतीश कुमार की जेडीयू महज 43 सीटें जीतने में कामयाब रही। जीतनराम मांझी की हम चार सीट जीतने में कामयाब रही और वीआईपी ने भी चार सीटें जीती हैं।

बिहार भाजपा के अंदर ऐसी भावना भी है। @narendramodi @rsprasad pic.twitter.com/HD69XfLarM

— Umashankar Singh उमाशंकर सिंह (@umashankarsingh) November 11, 2020

रविशंकर को सीएम बनाने की मांग पर सोशल मीडिया यूजर्स भी जमकर प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। संतोष शुक्ला @Sanutoshism लिखते हैं, ‘नीतीश जी को हल्के में नहीं ले सकते उनके पास लालू यादव के साथ मिलकर सरकार चलाने का रिकॉर्ड भी है। किसी भी समय वह भाजपा का पत्ता काट सकते हैं और तुरंत सीएम तेजस्वी को बना देंगे। इसलिए भाजपा की भी मजबूरी है नीतीश को ही सीएम रखना पड़ेगा।’

नरेंद्र कुमार @nkravi87 लिखते हैं, ‘ऐसी भावना है तो नीतीश जी पलट भी सकते हैं। कहीं उनकी अन्तरात्मा जाग गई तो लेने के देने पड़ जाएंगे।’ विकास ठाकुर @VikasThakur17 लिखते हैं, ‘नितीश जी पागल नहीं हैं, उनके पास भी मोदी जी जैसे, औलाद को राजनीतिक विरासत सौपने का लक्ष्य नही है। नीतीश जी अपनी पार्टी और अपनी लोकप्रियता पर आई गहरी चोट पर मलहम नहीं लगाएंगे, ऐसा हो नहीं सकता। अगर वो ऐसा करेंगे तो अपनी पार्टी का गला अपने घुटने के नीचे दबाएंगे।’

फिरोज खान @firozrahmanmd लिखते हैं, ‘बीजेपी के कुछ नेता इस तरह की हरकत कर रहे हैं। भाजपा को भी मालूम है नीतीश कुमार के बगैर बिहार में कोई भी पार्टी सरकार नहीं बना सकती अपने दम पर।’

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *