प्राइवेटाइजेशन पर रेल मंत्री का ऐलान-अब कोई भी राज्य & कंपनियां किराए पर लेकर चला सकेंगी ट्रेनें

PATNA : रेल मंत्री का ऐलान- अब कोई भी राज्य या कंपनियां किराए पर लेकर चला सकेंगी ट्रेनें = अब कोई भी राज्य सरकार या कोई भी कंपनी रेलवे से ट्रेन किराए पर लेकर देश में कहीं भी और किसी भी रूट पर चला सकती है। यही नहीं ट्रेन किराए पर लेने वाला ऑपरेटर ट्रेन का रूट और किराया भी तय कर सकता है। रेलवे इसके लिए ट्रेन संचालन करने वालों से न्यूनतम किराया लेगी।

इसके लिए हितधारकाें के साथ रेल मंत्रालय की चर्चा हो चुकी है। इस योजना के तहत 3333 कोच यानी 190 ट्रेनों को फिलहाल रेलवे ने चिह्नित किया है। ट्रेनों को किराए पर लेने के लिए अावेदन की प्रक्रिया मंगलवार से शुरू हो चुकी है। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा है कि अच्छा रिस्पॉन्स मिलने के बाद ट्रेनों की संख्या बढ़ाई जा सकती है। भारत गौरव ट्रेन भारत की संस्कृति, विरासत को प्रदर्शित करने वाली थीम पर आधारित होंगी।

News cutting of train privatisation

भारत गौरव ट्रेन एसी और नॉन एसी दोनों श्रेणियाें में होंगी। भारत गौरव ट्रेन में रूट तय करने का अधिकार स्टॉकहोल्डर के पास होगा। इसके साथ ही ट्रेन का संचालन निजी क्षेत्र और आईआरसीटीसी दोनों द्वारा किया जा सकता है और टूर ऑपरेटरों द्वारा इन ट्रेनों का किराया तय किया जाएगा।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WHATTSUP, YOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *