रघुवंश प्रसाद का बड़ा बयान, कहा-राजद-जदयू के बीच गठबंधन को लेकर चल रही है बात

क्या बिहार की राजनीति एक बार फिर करवट लेगी? क्या एक बार फिर सियासी समीकरण बदलेंगे? क्या एकबार फिर नीतीश कुमार महागठबंधन में शामिल होंगे? आरजेडी नेता रघुवंश सिंह के दावों की अगर मानें तो बहुत जल्दी ही बिहार की राजनीति में बड़ा बदलाव होगा. रघुवंश सिंह के इस दावे ने सियासी हल्कों में हलचल मचा दी है.

हमेशा अपने बयानों से चर्चा में रहने वाले आरजेडी नेता रघुवंश सिंह ने एक नया बयान देकर बिहार की सियासत को फिर से गरमा दिया है. रघुवंश सिंह की बातों को मानें तो जल्दी ही बिहार में नया सियासी समीकरण देखने को मिलेगा और इसे लेकर राजद और जेडीयू के बीच अंदरखाने में बातचीत शुरु हो गई है. राजद नेता ने दावा करते हुए कहा है कि बीजेपी सूबे में नीतीश कुमार को फिनिश करना चाहती है इसलिए नीतीश कुमार एकबार फिर राजद के पाले में आएंगे. रघुवंश सिंह ने कहा कि नीतीश कुमार को लेकर उनकी पहले की गई भविष्यवाणियां सही साबित हुई हैं इसलिए इस बार भी उनकी बात सही होगी और वो एक बार फिर महागठबंधन में शामिल होंगे.
RJD offer to nitish, dailybiharlive, dailybihar।com, national news, india news, news in hindi, latest news in hindi, बिहार समाचार, bihar news, bihar news in hindi, bihar news hindi

दरअसल पिछले कुछ दिनों से सूबे में बीजेपी नेताओं ने जिस तरीके का बयान दिया है उससे यह चर्चा जोर पकड़ रही है कि बिहार में बीजेपी नीतीश कुमार को साइड करना चाह रही है. पार्टी नेता संजय पासवान ने खुलेआम कहा था कि नीतीश कुमार को अब बिहार की राजनीति छोड़कर केंद्र की राजनीति करनी चाहिए. उनके इस बयान का पार्टी के सीनियर नेता सीपी ठाकुर ने भी समर्थन किया था. हालांकि सुशील मोदी ने अगले ही दिन ट्वीट कर नीतीश कुमार को एनडीए का कैप्टन बताया था और कहा था कि उनके नेतृत्व में ही एनडीए बिहार में चुनाव लड़ेगा.

इस दौरान सीएम नीतीश के विरोधी कहे जाने वाले केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह से भी दिल्ली जाकर कुछ नेताओं ने मुलाकात की थी. इस मुलाकात के बाद सियासी गलियारों में यह खबर फैलने लगी की बिहार में नीतीश कुमार को साइड करने की तैयारी की जा रही है. हालांक बीजेपी केंद्रीय नेतृत्व की तरफ से फिलहाल कोई इशारा नहीं मिला है. लेकिन राजनीति में कब कौन सा पासा फेंका जाएगा इसका कुछ पता नहीं होता.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.